Zomato को बड़ा झटका, कंपनी के को-फाउंडर और CTO गुंजन पाटीदार ने दिया इस्तीफा

फूड डिलिवरी प्लेटफॉर्म जोमैटो के को-फाउंडर और चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर (CTO) गुंजन पाटीदार ने इस्तीफा दे दिया है. पाटीदार जोमैटो के उन पहले चंद कर्मचारियों में से एक हैं, जिन्होंने कंपनी के लिए कोर टेक सिस्टम्स बनाए थे. पिछले 10 साल से ज्यादा समय के लिए उन्होंने टेक लीडरशिप टीम बनाई है. गुंजन पाटीदार ने जोमैटो के साथ करीब 14 साल काम किया. वह इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, दिल्ली (IIT) के छात्र रहे हैं. शेयर बाजार को दी सूचना में जोमैटो ने कहा, 'कंपनी को आगे बढ़ाने में उनका योगदान अमूल्य रहा है.' हालांकि, कंपनी ने उनके इस्तीफे के कारणों के बारे में जानकारी नहीं दी.

Splendor Plus को टक्कर पहले भी कई लोगों ने दिए इस्तीफे

पिछले साल नवंबर में कंपनी के एक और सह-संस्थापक, मोहित गुप्ता ने इस्तीफा दे दिया था. गुप्ता साढ़े चार साल पहले ज़ोमैटो में शामिल हुए थे. उन्हें 2020 में कंपनी के फूड डिस्ट्रिब्यूशन बिजनेस के सीईओ पद से प्रमोशन देकर को-फाउंडर बनाया गया था. पिछले साल कंपनी में राहुल गंजू ने इस्तीफा दिया था, जो हेड ऑफ न्यू इनिशिएटिव थे. इसके अलावा पूर्व वाइस प्रेसिडेंट-इंटरसिटी चीफ सिद्धार्थ झावर, और सह-संस्थापक गौरव गुप्ता ने भी कंपनी का साथ छोड़ दिया था.

जानकारी कंपनी को उठाना पड़ा नुकसान

टेक शेयरों की मंदी के बीच, फूड डिलिवरी कंपनी को 2022 में मार्केट में नुकसान उठाना पड़ा क्योंकि बीएसई पर इसके शेयर की कीमत 162 रुपये की पीक से 50 प्रतिशत से ज्यादा गिर गई है. सोमवार को शेयर 60.30 रुपये पर बंद हुआ था. वित्त वर्ष 2022-23 की दूसरी तिमाही में जोमैटो का शुद्ध घाटा पिछले वर्ष की समान तिमाही में 434.9 करोड़ रुपये के मुकाबले 250.8 करोड़ रुपये था. कंपनी का राजस्व 62.20 प्रतिशत बढ़कर 1,661.3 करोड़ रुपये हो गया है. Q2FY23 में इसकी तिमाही बिक्री Q2FY22 में 5,410 करोड़ रुपये से सालाना आधार पर 22 प्रतिशत बढ़कर 6,631 करोड़ रुपये हो गई.

Post a Comment

0 Comments