Indian Railways: ट्रेन के पिछले डिब्बे पर क्यों लिखा होता है X या LV? वजह जानकर उड़ जाएंगे होश

अगर आप भी ट्रेन से सफर करते हैं तो आपने अक्सर ट्रेन के डिब्बे पर x या फिर LV का निशान बना देखा होगा। क्या आप जानते हैं कि डिब्बे पर लिखे इन अक्षरों का क्या मतलब होता है। आइए आज इस रहस्य से आपको परिचित करवाते हैं. रेलवे अधिकारियों के मुताबिक किसी ट्रेन के अंत में अगर बड़े अक्षरों में LV लिखा (Meaning of X and LV written Behind the Train) हो तो उसका मतलब होता है लास्ट व्हीकल या अंतिम डिब्बा.

वहीं X का मतलब होता है कि वह डिब्बा ट्रेन का आखिरी कोच है. ये अक्षर ट्रेन की सेफ्टी के लिए उसके आखिरी डिब्बे पर सफेद-पीले रंग से लिखे जाते हैं. जिन्हें देखकर स्टेशन मास्टर समझ जाता है कि पूरी ट्रेन गुजर गई है.

ये निशान न दिखने पर हो जाता है अलर्ट

अगर स्टेशन मास्टर को किसी ट्रेन के पीछे ये निशान नहीं दिखते तो इसका मतलब होता है कि अभी पूरी ट्रेन नहीं आई है और उसके एक या अधिक कोच कहीं पीछे छूट गए हैं.

लिहाजा तुरंत वायरलेस पर मैसेज जारी कर उन खोए हुए डिब्बों को ढूंढने की कोशिश की जाती है. साथ ही आगे जा चुकी ट्रेन को भी रुकवाया जाता है. ट्रेन के पिछले हिस्सों में बने इन निशानों के जरिए सभी ट्रेनों की सेफ्टी सुनिश्चित की जाती है.

ब्लिंक करती रहती है लाइट

इन ट्रेनों (Indian Railway Interesting Facts) के पिछले हिस्से पर ब्लिंक करने वाली लाल रंग की बत्ती भी लगी होती है. रात के अंधेरे या कोहरे में यह जलती-बुझती ब्लिंकिंग लाइट इस बात की ओर इशारा करती है कि उसके आगे भी कोई दूसरी ट्रेन जा रही है.

ऐसे में पिछली ट्रेन का ड्राइवर वक्त रहते अपनी ट्रेन की स्पीड कम कर सकता है या पीछे ही रोक कर खड़ा कर सकता है.

इसके साथ ही यह ब्लिंक लाइट ट्रैक पर काम कर रहे कर्मियों को इस बात का इशारा करती है कि उस ट्रैक से ट्रेन अब गुजर चुकी है और वे अपना काम चालू कर सकते हैं.
 

Post a Comment

0 Comments