ई-श्रम कार्डधारकों के लिए सरकार ने खोला खजाने का पिटारा, हर महीना अकाउंट में आएंगे इतने हजार रुपये

आप असंगठित वर्ग में आते हैं और आपका ई-श्रम कार्ड नहीं बना हुआ है तो अब जल्द बनवा लें, क्योंकि आपने देर की तो फिर नुकसान बड़ा होगा। इसलिए जरूरी है कि आप पहले ई-श्रम कार्ड बनवा लें। केंद्र व राज्य सरकारें ई-श्रम कार्डधारकों के लिए खजाने का पिटारा खोल रही हैं, जिससे हर किसी के चेहरे पर काफी रौनक दिख रही है। अब सरकार ने इन लोगों के लिए एक धांसू स्कीम का आगाज कर दिया है, जिससे हर कोई दो-दो हाथ हो रहा है।

आपको नई स्कीम के तहत हर महीना 3,000 रुपये का लाभ दिया जाएगा, जिसके लिए कुछ शर्तें तय की गई हैं, जिनका पालन करना जरूरी होगा।

ई श्रम कार्डधारकों के लिए बच्चों की शिक्षा, पुत्रियों के विवाह से लेकर इलाज तक के लिए स्कीम चलाई जा रही हैं। मजदूरों को योजना के तहत सरकार की ओर से सुविधाएं दी जाती हैं। ई-श्रम कार्ड बनवाने के लिए कोई भी 16 से 59 वर्ष का व्यक्ति यह काम कर सकता है, लेकिन वह असंगठित वर्ग से जुड़ा हुआ होना जरूरी है।

सबसे पहले मजदूरों को ई श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने की जरूरत होगी। E-Shram Card बनवाने के लिए आधिकारिक वेबसाइट eshram.gov.in पर जाकर पंजीकरण कराने का सपना साकार कर सकते हैं। इसके अलावा आप सीएससी सेंटर पर जाकर भी पंजीकरण आराम से करा सकते हैं।

जानिए किस महीने मिलेगी पेंशन

मजदूरों को ई-श्रम कार्ड योजना में पंजीकरण कराना है तो कुछ शर्तों का पालन करना होगा। सबसे पहले तो कुछ जरूरी डॉक्यूमेंट्स की आवश्यकता होगी। इसमें जैसे – आवेदक का आधार कार्ड, आधार से लिंक्ड मोबाइल नंबर, बैंक अकाउंट नंबर, आदि.

इन दस्तावेजों के आधार पर आप आसानी से ई-श्रम कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन प्रोसेस पूरा कर सकते हैं। इस योजना में पंजीकृत श्रमिकों को 60 वर्ष पूरे होने पर पेंशन के रूप में हर महीने 3000 रूपये की सहायता देने का प्रावधान है।

सभी श्रमिकों को पोर्टल पर पंजीकरण कराने पर एक ई-श्रम कार्ड जारी किया जाना तय माना जा रहा है। इसके माध्यम से वो इन योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। जानकारी के लिए बता दें की ये कार्ड एक 12 अंकों वाला श्रमिक कार्ड होता है. जो एक तरह से मजदूरों के पहचान के तरह कार्य करता है।

Post a Comment

0 Comments