भारत जीतते-जीतते एक विकेट से हार गया पहला वनडे

मीरपुर | कितने सालों बाद सफेद गेंद क्रिकेट में ऐसा मैच देखने को मिला हैं, जहां पर गेंदबाजों का दबदबा रहा और बल्लेबाज जूझते नजर आए। केएल राहुल की अर्धशतकीय पारी काम नहीं आई और मेहदी हसन मिराज की नाबाद 38 रनों की पारी ने बांग्लादेश के लिए कमाल कर दिया। मिराज को प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला।

शाकिब अल हसन के पांच विकेट हों, इबादत हुसैन के चार विकेट या मोहम्मद सिराज के तीन विकेट। इस पूरे ही मैच में गेंदबाजों का दबदबा रहा लेकिन विजेता तो मुस्तफिजुर रहे जिन्होंने गेंद से नहीं बल्ले से संयम दिखाते हुए अपना विकेट नहीं गंवाने दिया और आखिरकार बांग्लादेश की टीम यह मैच 24 गेंद रहते एक विकेट से जीत गई।

भारत को 41.2 ओवर में 186 रन पर ढेर करने के बाद बांग्लादेश ने अपने नौ विकेट 136 रन पर गंवा दिए थे लेकिन मेहदी हसन और मुस्तफिजुर रहमान ने 10वें विकेट के लिए अविजित 51 रन की चौथी सबसे बड़ी साझेदारी कर भारत के हाथों से जीत छीन ली। बांग्लादेश ने 46 ओवर में नौ विकेट पर 187 रन बनाकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली।

Post a Comment

0 Comments