हरी सब्जियां, केला, ड्राई फ्रूट्स करेंगे इंफर्टिलिटी की समस्या को दूर, दिखेगा जादुई फर्क

इंफर्टिलिटी आजकल एक सामान्य समस्या बनती जा रही है. इस परेशानी से बचाव के लिए हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाना बेहद जरूरी है. कुछ सुपरफूड्स भी इसमें मददगार साबित हो सकते हैं. इंफर्टिलिटी वो कंडीशन है जिसके कारण कई कपल प्रभावित होते हैं. पिछले कुछ सालों से यह समस्या लगातार बढ़ती जा रही हैं. इसका कारण आजकल की अनहेल्दी लाइफस्टाइल हैबिट्स को माना जाता है.

हेल्दी बॉडी के लिए नियमित एक्सरसाइज करना और सुपरफूड्स का सेवन करने से प्राकृतिक रूप से फर्टिलिटी बूस्ट करने में मदद मिलती है, जिससे कंसीविंग प्रोसेस में भी हेल्प मिलती है.

सुपरफूड्स में न्यूट्रिशन का हाई लेवल होता है और यह फूड्स एंटीऑक्सीडेंट्स, फाइबर और फैटी एसिड्स जैसे कंपाउंड्स से रिच होते हैं. इनका सब का एग और स्पर्म की हेल्थ पर बहुत अच्छा प्रभाव पड़ता है. आइए जानें उन 5 सुपरफूड्स के बारे में जिनका इंफर्टिलिटी को दूर करने के लिए किया जा सकता है इस्तेमाल.'

इंफर्टिलिटी के लिए सुपरफूड्स

मेडिकल न्यूज टुडे के अनुसार इंफर्टिलिटी की समस्या तब होती है जब मेल या फीमेल किसी भी पार्टनर के रिप्रोडक्टिव सिस्टम में प्रॉब्लम के कारण फीमेल कंसीव नहीं कर पाती है. इंफर्टिलिटी प्राइमरी या सेकेंडरी हो सकती है. इससे राहत पाने के सुपरफूड इस प्रकार हैं:

हरी पत्तेदार सब्जियां

हर पत्तेदार सब्जियां जैसे ब्रोकोली, पत्तागोभी, पालक आदि में विटामिन ए, बी, सी, इ और के (K) के अलावा कई एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं. यह इंफर्टिलिटी की समस्या को दूर करने में प्रभावी हैं. यही नहीं, इन्हे खाने से गर्भपात और जेनेटिक अब्नोर्मलिटीज का रिस्क भी कम रहता है.

डेयरी प्रोडक्ट्स

डेयरी प्रोडक्ट्स जैसे मक्खन, दूध, पनीर कैल्शियम, प्रोबायोटिक, गुड फैट्स और विटामिन डी युक्त होते हैं जो ओवेल्यूशन को सुधारते और फर्टिलिटी को बूस्ट करते हैं.

ड्राई फ्रूट्स

ड्राई फ्रूट्स और नट्स में प्रोटीन,विटामिन और मिनरल्स भरपूर मात्रा में होते हैं. अखरोट में सेलेनियम अधिक मात्रा में होता है जो ऐसा मिनरल है जो एग्स में क्रोमोजोमल डैमेज को कम करता है. यही नहीं ड्राई फ्रूट्स में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल्स से बचाव करते हैं जिससे ह्यूमन बॉडी में एग प्रोडक्शन बढ़ती है.

केला

केले में विटामिन बी6, पोटैशियम और विटामिन सी अधिक मात्रा में होता है जो एग और स्पर्म की क्वालिटी को बढ़ाने में सहायक है.

पम्पकिन सीड्स

पम्पकिन सीड्स मच्योर सेल्स को प्रोड्यूज करने में मदद करते हैं. यह जिंक का भी अच्छा स्त्रोत हैं, जो टेस्टोस्टेरोन और सीमेन लेवल को बढ़ने में मदद करता है. यह रिप्रोडक्टिव सिस्टम को सपोर्ट और कंट्रोल करने में मददगार हैं.

Post a Comment

0 Comments