ऑस्ट्रेलिया ने विंडीज को दूसरे टेस्ट में 419 रन से रौंदा, सीरीज को 2-0 से क्लीन स्वीप किया

एडिलेड | ऑस्टेलिया ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए वेस्ट इंडीज को दूसरे टेस्ट मैच में रविवार को 419 रन के बड़े अंतर से रौंद कर सीरीज को 2-0 से क्लीन स्वीप कर लिया और अगले वर्ष होने वाले आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल की तरफ कदम बढ़ा दिया।

ऑस्ट्रेलिया ने वेस्ट इंडीज के सामने 497 रन का लक्ष्य रखा और विंडीज को चौथे दिन ही 40.5 ओवर में 77 रन पर समेट कर जीत की औपचारिकता पूरी की। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से मिचेल स्टार्क, माइकल नीसर और स्कॉट बोलैंड ने तीन-तीन विकेट झटक कर विंडीज को शर्मनाक हार झेलने के लिए मजबूर कर दिया। ट्रेविस हेड को प्लेयर ऑफ द मैच और मार्नस लाबुशेन को प्लेयर ऑफ द सीरीज घोषित किया गया।

इस सीरीज जीत का मतलब है कि ऑस्ट्रेलिया विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की तालिका में अब और आगे बढ़ गया है। ऑस्ट्रेलिया का मौजूदा अवधि में जीत का प्रतिशत 75 हो गया है।

पैट कमिंस की टीम तालिका में अपना प्रतिशत और बढ़ा सकती है। उसे इस सप्ताह बाद में दक्षिण अफ्रीका की तीन टेस्टों की सीरीज के लिए मेजबानी करनी है। इसके बाद फरवरी-मार्च में उसे चार टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए भारत का दौरा करना है जिससे अगले वर्ष होने वाले फाइनल की दो टीमों का फैसला होना है।

कमिंस खुद विंडीज के खिलाफ विध्वंसक जीत का हिस्सा नहीं बन पाए लेकिन उनके दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शनिवार से गाबा में होने वाले पहले टेस्ट के लिए फिट हो जाने और ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी संभालने की उम्मीद है।

तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड का बगल में खिंचाव के कारण खेलना संदिग्ध है जबकि स्कॉट बोलैंड और नीसर को अपने शानदार प्रदर्शन का फायदा मिल सकता है और वे एकादश में अपनी जगह बरकरार रख सकते हैं।

वेस्ट इंडीज के लिए सीरीज निराशाजनक रही और लगातार दो हार के साथ वह टेस्ट चैंपियनशिप तालिका के फाइनल की होड़ से बाहर हो गयी। विंडीज के दूसरी पारी में 77 रन उसका ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट इतिहास में न्यूनतम स्कोर और ओवरआल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरा न्यूनतम स्कोर है।

यह रनों के लिहाज से विंडीज की टेस्ट मैचों में सबसे बड़ी हार है। वह तालिका में इंग्लैंड से पिछड़कर 40.91 जीत प्रतिशत के आधार पर ओवरआल सातवें स्थान पर है।

Post a Comment

0 Comments