कांग्रेस का आपदा में राजनीति करना आदत में शुमारः भाजपा

देहरादून। उत्तराखंड में आपदा को लेकर भाजपा और कांग्रेस में जुबानी जंग तेज हो गई है। कांग्रेस नेता यशपाल आर्य के बयान पर भाजपा ने पलटवार किया है। भाजपा का कहना है कि कांग्रेस आपदा में भी राजनीत करने से बाज नहीं आ रही है और उनकी आदत में यह हमेशा से शुमार है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र भट्ट ने नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य के आपदा के बयान पर कांग्रेस को आड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का आपदा में राजनीति करना आदत में शुमार हो गया है। आपदा में धामी सरकार पहले भी बेहतर प्रबंधन साबित कर चुकी है। उन्होंने कहा कि एसडीआएफ, पुलिस सहित प्रशासन के तमाम अधिकारी और कर्मी लोगों को राहत देने में जुटे हुए हैं लेकिन कांग्रेस राहत कार्यों में सकारात्मक योगदान के बजाय उसमें कमियां तलाशने में जुटी है।

भट्ट ने कहा कि कोरोना काल में भी लोगों के सुख दुःख में साथ देने के बजाय कांग्रेस धरना प्रदर्शन में लगी रही लेकिन उसे जनता की मदद रास नहीं आई। प्रदेश में आई सबसे बड़ी केदारनाथ आपदा के समय कांग्रेस ने कितना गैर जिम्मेदार रवैया अपनाया, यह दुनिया समझती है। विगत दिवस प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में आयी आपदा के समय के कुछ क्षणों में ही बचाव दल पीड़ितों के पास पहुंच गया और लोगों को राहत देने के लिए सभी प्रयास किये गए और किए जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के साथ मंत्री और विधायक दिन-रात आपदा राहत कार्यों में जुटे रहे। मुख्यमंत्री ने स्वयं आपदा ग्रस्त क्षेत्रों का स्थलीय निरीक्षण करके वहां की स्थिति का जायजा लिया। कांग्रेस को आपदा में अवसर तलाशने के बजाय लोगों के बीच राहत के लिए जुटना चाहिए और सकारात्मक सोच के साथ बयान देना चाहिए।

प्रभावितों को मदद पहुंचाने में दिख रही अव्यवस्थाः कांग्रेस

नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस नेता यशपाल आर्या ने कहा कि हमने देहरादून में आपदा प्रभावित क्षेत्रों का कांग्रेस नेताओं संग दौरा किया है, लेकिन देहरादून में आपदा प्रभावितों को मदद पहुंचाने में अव्यवस्था दिख रही है तो अन्य स्थानों का हाल क्या होगा। उन्होंने कहा कि साल 2013 की आपदा से सरकार को सीख लेना चाहिए। अभी भी सरखेत गांव में बड़ी मशीनें नहीं पहुंची हैं। उन्होंने सरकार को सलाह देते हुए कहा कि आपदा ही नहीं बल्कि किसी भी संभावित घटना के लिए तैयारी करनी चाहिए। कांग्रेस इन कठिन क्षणों में सरकार को हर संभव मदद करने को तैयार है।

नेता प्रतिपक्ष के साथ केदारनाथ के पूर्व विधायक मनोज रावत, प्रभु लाल बहुगुणा, कांग्रेस के निवर्तमान मीडिया प्रभारी एवं वरिष्ठ पैनलिस्ट राजीव महर्षि, सूरत सिंह नेगी, जिला पंचायत सदस्य अश्वनी बहुगुणा, पूर्व जिला पंचायत सदस्य विनीत डोभाल, प्रधान सरखेत नीलम कोटवाल, पूर्व प्रधान सरखेत विजेंद्र पंवार सहित मौजूद रहे।
 

Post a Comment

0 Comments