यूक्रेन पहुंचे गुटेरेस ने यूरोप के सबसे बड़े परमाणु ऊर्जा स्टेशन के हालात पर चिंता जताई

कीव/लवीव। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस गुरुवार को यूक्रेन दौरे पर पहुंचे और यूरोप के सबसे बड़े परमाणु ऊर्जा स्टेशन के हालात को लेकर चिंता जताई। रूस ज़ापोरिज्जिया परमाणु संयंत्र पर जल्द कब्जा कर सकता है। ऐसे में यह सुविधाओं को बंद भी कर सकता है वहीं कीव ने कहा कि एक परमाणु से तबाही का खतरा बढ़ जाएगा।

यूक्रेन के पश्चिमी शहर लवीव में यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की के साथ बातचीत के बाद गुटेरेस ने संवाददाताओं से कहा कि सैन्य उपकरण और कर्मियों को संयंत्र से वापस ले लिया जाना चाहिए तथा इस सुविधा का इस्तेमाल किसी भी सैन्य अभियान के हिस्से के रूप में नहीं किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि ज़ापोरिज्जिया के नागरिकों को पूरी तरह से बुनियादी ढांचे को फिर से स्थापित करने और क्षेत्र की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए समझौते की तत्काल आवश्यकता है।

यूक्रेन ने रूस पर यूक्रेन के कब्जे वाले शहरों पर हमले शुरू करने के लिए अपनी सेना के लिए एक ढाल के रूप में संयंत्र का उपयोग करने का भी आरोप लगाया, जिसे मास्को ने इनकार किया।

राष्ट्रपति जेलेंस्की ने गुरुवार को गुटेरेस से मुलाकात के बाद कहा कि उन्होंने संयंत्र के लिए अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी के संभावित मिशन के मानकों पर सहमति जताई है। इससे पहले उन्होंने रूस पर ''परमाणु ब्लैकमेल'' करने का आरोप लगाया था।

खार्किव में रूसी गोलाबारी से तीन की मौत

यूक्रेन के उत्तरपूर्वी शहर खार्किव पर गुरुवार तड़के रूस के रॉकेट हमले में तीन नागरिकों की मौत हो गई और 17 घायल हो गए। 40 बचावकर्मियों ने हमले के बाद लोगों को बचाने के लिए राहत एवं बचाव का कार्य किया और आठ लोगों को मलबे से बचाया गया था। हड़ताल बुधवार को खार्किव पर एक रूसी हमले के बाद हुई, जिसमें आपातकालीन सेवा ने कहा कि 12 लोग मारे गए। स्थानीय गवर्नर ओले सिनेहुबोव ने कहा कि खार्किव क्षेत्र के क्रास्नोहरद शहर पर गुरुवार को रॉकेट हमले में दो लोग मारे गए।

यूक्रेन के दूसरे सबसे बड़े शहर खार्किव पर बुधवार को हुए हमले को राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने "बिना किसी औचित्य के नागरिकों पर कुटिल और सनकी हमले" के रूप में वर्णित किया।

Post a Comment

0 Comments