भर्तियों में गड़बड़ी पर सरकार सख्त, युवाओं के भविष्य को लेकर चिंतित भी: मुख्यमंत्री

देहरादून। मुख्यमंत्री ने अधीनस्थ सेवा चयन आयोग और विधानसभा में भर्तियों आ रही गड़बड़ी की शिकायतों पर कहा कि सरकार इस प्रकरण को लेकर सख्त है। युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ करने वालों के खिलाफ एक मजबूत और पारदर्शी सिस्टम बनाने पर काम किया जाएगा। विधानसभा अध्यक्ष से सभी कालखंड में भर्तियाें की जांच करायी जाएगी। साथ ही उन्होंने कहा कि ईमानदारी से परीक्षा में पास होने वाले छात्रों के भविष्य काे लेकर सरकार पूरी चिंता करेगी। उनका पूरा ख्याल रखा जाएगा।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मीडिया से अनौपचारिक बातचीत में कहा कि यह बहुत ही गंभीर विषय है। हमारे प्रदेश के सभी नौजवानों के रोजगार से जुड़ा मामला है। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की भर्तियों में जहां भी गड़बड़ी की शिकायत प्राप्त हो रही है वहां हमने सख्त जांच के आदेश दे दिये हैं। कुछ मामले एसटीएफ को दिये गये हैं और कुछ पर विजिलेंस को नियुक्त किया गया है। सभी मामलों पर कार्रवाई चल रही है। साथ ही

मुख्यमंत्री ने कहा कि परिणाम आप सभी के सामने आ भी रहा है कि अभी तक कुल 27वीं गिरफ्तारी हो चुकी हैं। भर्ती घोटालों में किसी को भी नही बख्शा जायेगा, चाहे किसी के हाथ कितने भी लम्बे क्यों न हो कानून की ओर से अपना काम किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे हम आगे के लिए भी एक नजीर बनाना चाहते हैं, जिससे इस घटना की पुनरावृति न हो क्योंकि हमें अपने बेटे-बेटियों के आज और कल की चिंता है, उनके वर्तमान एवं भविष्य का सवाल है। हमें प्रदेश में भर्ती प्रक्रियाओं का ऐसा सिस्टम बनाना होगा कि आगे भविष्य में कोई इस तरह का कृत्य करने की सोच भी न सके। लगातार जांचे चल रही है जिसके परिणाम धीरे-धीरे आप सभी के समक्ष आते जा रहे हैं।

विधानसभा में नियुक्तियों में गड़बड़ी की आ रही शिकायतों पर मुख्यमंत्री ने कहा कि विधानसभा एक संवैधानिक संस्था है, और हम विधानसभा अध्यक्ष से अनुरोध करेंगे कि विधानसभा में जितनी भी भर्तियां हुई हैं जिनमें शिकायत आ रही है, वो नियुक्ति चाहे किसी भी कालखण्ड की हो उनमें निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। विधानसभा अध्यक्षा द्वारा जांच कि विषय में राज्य सरकार से जो भी सहयोग मांगा जायेगा, वह दिया जायेगा।

Post a Comment

0 Comments