वित्तीय अनियमितताएँ बर्दाश्त नहीं होंगी : गोयल

वित्तीय अनियमितताएँ बर्दाश्त नहीं होंगी : गोयल

भोपाल : अध्यक्ष, मध्यप्रदेश राज्य बीज एवं फार्म विकास निगम (कैबिनेट दर्जा)  मुन्नालाल गोयल ने कहा है कि किसी भी प्रकार की अनियमितता बर्दाश्त नहीं की जायेंगी। वित्तीय अनियमितताओं पर कठोर दण्डात्मक कार्यवाही सुनिश्चित होगी।  गोयल बीज निगम के संचालक मण्डल की 105वीं बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में ग्वालियर लक्ष्मीगंज केन्द्र प्रभारी द्वारा विगत 2 वर्षों से शून्य उपार्जन के कारण केन्द्र प्रभारी को निलंबित करने के आदेश दिये गये।

अध्यक्ष बीज निगम  गोयल ने निर्देशित किया कि बीज निगम के जिन अधिकारियों के विरुद्ध वित्तीय अनियमितताओं की जाँच चल रही है, उन्हें प्रमुख जिम्मेदारियों से मुक्त करें। उन्होंने डेढ़ करोड़ रुपये के गबन के आरोपी बीज निगम के फ्लाइंग स्क्वाड के इंचार्ज एस.एस. बारिया को पद से हटाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि वित्तीय अनियमिताएँ करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। किसानों के हितों के साथ खिलवाड़ करने वाले बख्शे नहीं जायेंगे।

 गोयल ने प्रदेश के 42 प्रक्षेत्रों एवं 54 प्रक्रिया केन्द्रों के बुनियादी ढाँचे को सुदृढ़ करने के लिये 100 करोड़ रूपये के प्रस्ताव का प्राक्कलन तैयार करने के निर्देश दिये। बैठक में समयमान-वेतनमान के लाभ से वंचित कर्मचारियों को लाभ प्रदान करने का निर्णय लिया गया। सभी प्रक्षेत्र एवं प्रक्रिया केन्द्रों को कम्प्यूटर एवं इंटरनेट से जोड़कर हाईटेक बनाया जायेगा। बीज निगम की बिक्री को बढ़ावा देने के लिये प्रदेश भर में डीलर्स की संख्या बढ़ायेंगे।

बैठक में क्षेत्रीय प्रबंधकों के वित्तीय अधिकारों में वृद्धि करने का निर्णय लिया गया। साथ ही बीज संवर्धन के लिये प्लास्टिक बैग के स्थान पर जूट बैग को बढ़ावा देने के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। स्थानीय माँग एवं स्थानीय जलवायु को ध्यान में रखते हुए बीज उत्पादक कार्यक्रम बनाये जाने, क्रॉप कटिंग (अनुमानित उत्पादन के प्रयोग) से कम उत्पादन देने वाले प्रक्षेत्र प्रबंधकों के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही करने और जैविक एवं औषधि खेती को बढ़ावा देने के लिये उच्च गुणवत्ता के बीज एवं मॉडल फार्म के विकास के लिये प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिये गये।

निगम उपाध्यक्ष डॉ. राजकुमार सिंह कुशवाह, संचालक कृषि-सह-प्रबंध संचालक बीज निगम  प्रीति मैथिल अवर सचिव, वित्त, वैज्ञानिक अनुसंधान सेवाएँ, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, प्रतिनिधि प्रबंध संचालक अपैक्स बैंक एवं आयुक्त पंजीयक एवं सहकारिता विभाग बैठक में उपस्थित रहे।


 

Post a Comment

0 Comments