ओरछा को पूरी तरह बनाया जाएगा पवित्र नगरी

ओरछा को पूरी तरह बनाया जाएगा पवित्र नगरी

भोपाल : मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि श्री राम राजा सरकार के स्थल ओरछा को पूरी तरह पवित्र नगरी बनाया जाएगा। मुख्यमंत्रीचौहान रामनवमी के अवसर पर ओरछा के कंचना घाट पर विगत 4 अप्रैल से चल रहे प्राकट्य पर्व का समापन कर रहे थे। केन्द्रीय सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्रीवीरेन्द्र कुमार, म.प्र. के लोक निर्माण एवं निवाड़ी जिले के प्रभारी मंत्री  गोपाल भार्गव, संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर, विधायक द्वय  अनिल जैन और शिशुपाल यादव, मुख्यमंत्री की धर्मपत्नि  साधना सिंह, पूर्व सांसद डॉ. रामकृष्ण कुसमरिया सहित जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि भगवान श्री राम राजा हैं तो केवल ओरछा में है। उन्होंने राम राजा से प्रार्थना की कि मध्यप्रदेश भी उनके आर्दशों के अनुरूप बन सके, ऐसी वे कृपा करें। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि ओरछा को राजा श्री राम के आर्दशों के अनुरूप नशा और अपराध मुक्त, स्वच्छ और हरा-भरा बनाने में यहाँ के नागरिक सहयोग करें। उन्होंने कहा कि यह तय किया गया है कि बेटियों और महिलाओं के सम्मान को ठेस पहुँचाने तथा उनके साथ अत्याचार करने वालों को कठोर सजा दी जाएगी। अपराधिक तत्वों और गड़बड़ी करने वाले माफिया को छोड़ा नहीं जाएगा, उनके घर बुल्डोजर चलते रहेंगे।

चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में जहाँ सम्पंन, समृद्ध भारत का निर्माण होना है, वहीं मध्यप्रदेश को भी हमें समृद्धशाली बनाना है। उन्होंने ओरछा के गौरव दिवस पर जनता से दोनों हाथ उठाकर संकल्प लेने को कहा कि सभी राजा श्री राम के आदर्शों के अनुरूप अद्भुत ओरछा का निर्माण करने में भागीदार बने।

मंत्री उषा ठाकुर ने बताया कि श्री राम राजा मंदिर परिसर में 21 लाख की लागत से श्री राम दीर्घा की स्थापना की गई है। उन्होंने कहा कि सिर्फ राम जन्मोत्सव मनाने से बात नहीं बनेगी, उनके आदर्श और चरित्र को अपने जीवन में उतारना होगा।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री  चौहान ने राम लीला मंडली के नाट्य दलों के कलाकारों को तिलक लगाकर 89 जनजातीय क्षेत्रों के लिए रवाना किया। मुख्यमंत्री  चौहान और अन्य अतिथियों ने राज्याभिषेक झांकी की आरती भी उतारी और रामलीला के विभिन्न प्रसंगों को भी देखा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्राकट्य पर्व पर आयोजित रामलीला के प्रमुख कलाकारों  पुनीत इस्सर, बिंदु दारा सिंह, सुनील शर्मा, सुमित नागर और  परिधि शर्मा आदि का जनता से परिचय भी कराया।

कंचना घाट पर आरती और दीप प्रज्जवलन

प्रारंभ में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने धर्मपत्नि  साधना सिंह चौहान के साथ बेतवा नदी के कंचना घाट पर नदी की विधिवत पूजा-अर्चना और आरती की। उन्होंने नदी में दीप प्रवाहित किया।

Post a Comment

0 Comments