पीएम मोदी के आह्वान पर महानदी यमुना महोत्सव 6 और 7 अप्रैल को, होंगे विविध कार्यक्रम

पीएम मोदी के आह्वान पर महानदी यमुना महोत्सव 6 और 7 अप्रैल को, होंगे विविध कार्यक्रम


-अब समय दूर नहीं, आराध्य गोपालजी का भक्त करा सकेंगे शुद्ध जलाभिषेक

-650 किमी पाइप लाइन से मथुरा पहुंचेगी यमुनोत्री

मथुरा, 05 अप्रैल (हि.स.)(अपडेट)। अब वह समय दूर नहीं जब यमुना भक्त अपने आराध्य गोपाल जी को शुद्ध जल से अभिषेक करा सकेंगे। लगभग 650 किमी. लम्बी पाइप लाइन द्वारा यमुनोत्री से मथुरा स्थित विश्राम घाट पर यमुना में जल लाया जायेगा, यमुना छठ के मौके पर मथुरा में दो दिवसीय कार्यक्रम आयोजित होंगे, जिसमें पांच राज्यों के 700 लोग प्रतिभाग करेंगे। उक्त आशय की जानकारी प्रोजेक्ट आत्मनिर्भर संस्थान के संस्थापक रंजीत चतुर्वेदी पाठक ने मंगलवार दोपहर बैठक के दौरान दी है।

मुम्बई में व्यवसाय करने वाले परियोजना प्रोजेक्ट आत्मनिर्भर संस्थान के संस्थापक रंजीत पाठक चतुर्वेदी ने बताया प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिसम्बर 2021 को बनारस में इण्डिया मेयर कांफ्रेंस में नदियों को संरक्षण प्रदान करना हमारा कर्तव्य है तथा नदी उत्सव मनाने पर देश की जनता को महत्वपूर्ण संदेश दिया था। जिस यमुना पुत्र रंजीत चतुर्वेदी पाठक ने प्रत्येक वर्ष मनाये जाने वाले यमुना छठ उत्सव को वृहद रूप देते हुए इसे दो दिवसीय मनाने का संकल्प लिया है। 6 व 7 अप्रैल को मनाये जाने वाले कार्यक्रम देश के 5 राज्यों के 700 लोग प्रतिभाग करेंगे। छह अप्रैल को दोपहर यमुनोत्री धाम से आये यमुना जल के भक्तों का अभिनंदन, अखिल भारतीय तीर्थ पुरोहित महासभा के अध्यक्ष महेश पाठक द्वारा स्वागत व रंजीत चतुर्वेदी पाठक द्वारा स्वागत संदेश, रंग मंचीय नाटक, मैजिक शो, आरती व राग कल्याणी, 7 अप्रैल को प्रांत मंगला आरती, दिव्य योग जिसमें दिव्यांग लोगों के साथ योग कार्यक्रम, दोपहर को शोभायात्रा एवं छप्पन भोग आरती व ब्रजरस संगीत और धन्यवाद बचन होगा।

प्रोजेक्ट आत्मनिर्भर के संयोजक रंजीत महेश पाठक ने बताया कि संस्था जन सहयोग से कृष्णा कालिंदी सेतु योजना के तहत लगभग 222 करोड़ की लागत से यमुनोत्री से मथुरा पाइपलाइन द्वारा यमुना का शुद्ध जल लाएगी। लगभग एक लाख लीटर जल प्रत्येक दिन मथुरा स्थित जमुना में डाला जाएगा, जिससे मथुरा वालों को आचमन तथा अपने गोपाल जी का अभिषेक करने के लिए शुद्ध जल प्राप्त होगा।

इस मौके पर संजय चतुर्वेदी, धर्मदास चतुर्वेदी, मेजर सीताराम, योगा ट्रेनर निधा, प्रोजेक्ट कंसलटेंट एडवाइजर प्रिंसिपल आलोक कुमार, इंजीनियर दीपक साहू, गौरव सिन्हा, योगेश बहादुर माथुर आदि उपस्थित रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/महेश

Post a Comment

0 Comments