अयोध्या : माता जानकी की प्राकट्य स्थली सीतामढ़ी जायेंगे संत महन्त

अयोध्या : माता जानकी की प्राकट्य स्थली सीतामढ़ी जायेंगे संत महन्त


अयोध्या : माता जानकी की प्राकट्य स्थली सीतामढ़ी जायेंगे संत महन्त


अयोध्या, 22 मार्च (हि.स.)। जानकी पुत्र दे रहे हैं अयोध्या के साधु संतों को माता जानकी की प्राकट्य स्थली सीतामढ़ी में आने का निमंत्रण। श्री जानकी जन्मोत्सव आयोजन समिति के तत्वावधान में रामनगरी पंहुचे पांच दर्जन जानकी पुत्रों के दल ने श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के अध्यक्ष महन्त नृत्य गोपाल दास जी महाराज, मणिराम दास छावनी के उत्तराधिकारी महन्त कमलनयन दास, निर्वाणीअनि के श्रीमहन्त धर्मदास महाराज, कारसेवकपुरम में विहिप नेता पुरुषोत्तम नारायण जी, मीडिया प्रभारी शरद शर्मा, रामवल्लभा कुंज के अधिकारी राजकुमार दास, गोला घाट के महन्त सियाकिशोरी शरण, हनुमानगढ़ी के कल्याण दास महाराज, दशरथ महल के महन्त देवेंद्राचार्य महाराज, महन्त रामविलास वेदांती, कनक भवन पुजारी दिनेश महाराज समेत अन्य साधु संतों से मिलकर सीतामढ़ी की ओर से प्रसाद का दउरा देकर मिथिला का पाग व अंगोछा पहनाकर सम्मानित किया।

अध्यक्ष आलोक कुमार ने बताया कि मेरे और संयोजक अमित कुमार गोल्डी की देखरेख में दल मीडिया प्रभारी राजेश कुमार सुन्दरका ,रीतेश कुमार ''लक्ष्मण शरण'', चंदन कुमार, आशुतोष कुमार, धीरज कुमार, आशीष व्याहुत, डॉo राजेश सुमन, प्रदीप गुप्ता, अमरेन्द्र कुमार, राहुल रंजन,अनिल शर्मा,संतोष कुमार,सूरज कुमार, बेचन जी जय नारायण साह, पवन सिंह रोहन सिंह,चंदन कुमार,नीरज प्रकाश,आशुतोष कुमार समेत सभी सदस्यों ने पूज्य संतो तथा विहिप पदाधिकारियों से आग्रह किया कि आगामी 10 मई 2022 को जानकी नवमी पर सीतामढ़ी पधारे व महोत्सव में शामिल हो तथा अयोध्या वा सीतामढ़ी के नागरिकों को बीच संवाद हो साथ ही और भी समीप आने का मौका मिले।

इस पर सभी साधु संतों ने सीतामढ़ी पहुंचने के आश्वासन के साथ सीतामढ़ी के विकास और प्रगति की कामना की है।

इस दौरान विहिप मीडिया प्रभारी शरद शर्मा ने निमंत्रण लेकर अयोध्या पहुंचे जानकी भक्तों का स्वागत करते हुये कहा माता जानकी की जन्मभूमि अयोध्या वासियों के लिए श्रीराम जन्मभूमि की भांति ही पूज्य और पवित्र है। प्रेम और अपनत्व से परिपूर्ण पधारे भक्त भी हमारे लिए पूज्य हैं। स्नेहत्र भरा आमंत्रण अयोध्या और जनकपुर की ही भांति सीता मढ़ी को भी प्रेमसूत्र में बांधने वाला है। उन्होंने कहा कि अयोध्या पधारे जानकी भक्तों ने केन्द्र सरकार से मांग की है कि यहां से ट्रेन चलाकर अयोध्या और सीतामढ़ी को जोड़ा जाए।

जानकी भक्तों की इस मांग का समर्थन करते विहिप ने कहा कि इससे धार्मिक और सांस्कृतिक संबंध जहां मजबूत होगा, वहीं तीर्थाटन को भी बल मिलेगा। शीघ्र ही स्थानीय सासंद लल्लू सिंह के साथ ही रेल मंत्री को भी इससे अवगत कराया जायेगा।

हिन्दुस्थान समाचार/पवन

Post a Comment

0 Comments