मध्य रेल ने अप्रैल 2021 से फरवरी 2022 तक 68.56 मिलियन टन माल लदान किया

मध्य रेल ने अप्रैल 2021 से फरवरी 2022 तक 68.56 मिलियन टन माल लदान किया


मुंबई, 2 मार्च, (हि. स.)। मध्य रेल ने अप्रैल 2021 से फरवरी 2022 तक 68.56 मिलियन टन माल लदान किया है, जो किसी भी अप्रैल-फरवरी के माल लदान से सर्वाधिक है। जबकि फरवरी 2022 में 6.51 मिलियन टन माल लदान किया, जो किसी भी फरवरी में अब तक का सर्वश्रेष्ठ माल लदान है।

मध्य रेल मुंबई के जनसंपर्क विभाग द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, फरवरी 2022 में मध्य रेल का माल लदान 6.51 मिलियन टन रहा, जबकि फरवरी 2021 में यह 5.93 मिलियन टन था, जिसमें 9.8% की वृद्धि दर्ज की गई है। अप्रैल 2021 से फरवरी-2022 के दौरान मध्य रेल का माल लदान 68.56 मिलियन टन है, जबकि पिछले वर्ष की इसी अवधि में 55.08 मिलियन टन लदान हुआ था, जो 24.5% की वृद्धि दर्ज करते हुए किसी भी अप्रैल-फरवरी की अवधि के दौरान अब तक का सबसे अच्छा लदान है। पिछला सबसे अच्छा लदान अप्रैल-फरवरी 2018-19 के दौरान 57.60 मिलियन टन था।

फरवरी 2022 में नागपुर मंडल 3.81 मिलियन टन और अप्रैल 2021 से फरवरी 2022 की अवधि के दौरान 39.88 मिलियन टन के लदान के साथ सबसे आगे है। इसके बाद फरवरी 2022 में 1.31 मिलियन टन के माल लदान और अप्रैल 2021 से फरवरी 2022 की अवधि के लिए 15.22 मिलियन टन के साथ मुंबई मंडल का स्थान है। अप्रैल 2021 से फरवरी 2022 की अवधि के लिए 36.94 मिलियन टन के लदान के आंकड़े के साथ शीर्ष स्थान पर कोयला हैं, इसके बाद 8.79 मिलियन टन कंटेनर का माल लदान रहा है।

मध्य रेल के महाप्रबंधक अनिल कुमार लाहोटी ने कहा कि यह सबसे अच्छा माल लदान मुख्य रूप से क्षेत्रीय और मंडल स्तरों पर मध्य रेल द्वारा गठित व्यापार विकास इकाइयों (बीडीयू) द्वारा की गई पहलों के फलस्वरूप सम्भव हुआ है। उन्होंने कहा कि मध्य रेल माल लदान को बढ़ावा देने के लिए हर संभव तरीके तलाश रहा है।

हिन्दुस्थान समाचार/दिलीप

Post a Comment

0 Comments