स्मार्ट फोन से की जा रही पोषण अभियान की वास्तविक समयबद्ध निगरानी

भोपाल :  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 4 फ़रवरी को दोपहर 1.15 बजे मंत्रालय से पोषण अभियान के तहत सीहोर जिले की आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को 1,465 स्मार्ट फोन का वर्चुअली वितरण करेंगे।

महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा पोषण अभियान का संचालन प्रदेश के सभी 52 जिलों की 453 एकीकृत बाल विकास परियोजना में स्वीकृत 97 हजार 135 आँगनवाड़ी और मिनी आँगनवाड़ी केंद्रों से किया जा रहा है। सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी आधारित वास्तविक समयबद्ध निगरानी मोबाइल आधारित पोषण ट्रेकर एप्लीकेशन से की जाती है। पूर्व में 16 जिलों की 27 हजार 817 आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्ट फोन एवं 972 पर्यवेक्षक को टेबलेट वितरित किये जा चुके हैं। शेष 36 जिलों की 69 हजार 316 आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं तथा 2,429 पर्यवेक्षकों को स्मार्ट फोन क्रय कर जिला स्तर से वितरित किए जा रहे हैं।

स्मार्ट फोन से पोषण ट्रेकर एप्लीकेशन का उपयोग कर आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा आँगनवाड़ी केंद्रों में दी जाने वाली सेवाओं की दैनिक जानकारी प्रविष्ट की जाती है। जानकारी का अनुश्रवण ब्लॉक, जिला एवं राज्य स्तर पर प्रतिदिन किया जाता है। आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा स्मार्ट फोन पर पोषण ट्रेकर का उपयोग करने से जहाँ प्रतिदिन रजिस्टरों के संधारण का काम कम होगा, वही एप्लीकेशन से आँगनवाड़ी कार्यकर्ता को प्रतिदिन दैनिक कार्यों के संबंध में तैयार सूचना प्राप्त होगी जिसमें उन्हें गृह भेंट में टीकाकरण तथा अन्य सेवाओं के लिए किन हितग्राहियों को चुनना है तथा किन हितग्राहियों के घरों में जाकर परामर्श देना और सूचनाएँ शामिल हैं। पोषण ट्रेकर से आँगनवाड़ी कार्यकर्ता अपने केंद्र में दर्ज समस्त हितग्राहियों की सूची अपने मोबाइल पर कहीं भी किसी भी समय पर देख सकती हैं, जिससे हितग्राहियों की निगरानी करना आसान होगा। साथ ही आँगनवाड़ी केंद्र में दर्ज 0 से 5 साल तक के बच्चों की वृद्धि की निगरानी भी आसान होगी। आँगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा बच्चों का वजन एवं ऊँचाई दर्ज करने पर तत्काल बच्चे के कुपोषण का स्तर परिलक्षित होने लगेगा। अब आँगनवाड़ी कार्यकर्ता को ग्रोथ रजिस्टर नहीं भरना पड़ेगा। पोषण ट्रेक्टर से गर्भवती महिला का पंजीयन करने पर आँगनवाड़ी कार्यकर्ता को प्रतिदिन किस गर्भवती महिला की जाँच करानी है अथवा किस गर्भवती महिला को गृह भेंट के माध्यम से परामर्श देना है, यह जानकारी भी उपलब्ध रहेगी।

पोषण ट्रेकर एप्लीकेशन के संचालन के लिए नेट कनेक्टिविटी के लिए प्रदेश की समस्त आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को 200 रूपये प्रति माह का भुगतान किया जा रहा है। एप्लीकेशन में निर्धारित मापदंडों अनुसार जानकारी भरने पर आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को 500 रूपये की राशि तथा आँगनवाड़ी सहायिका को 250 रूपये की राशि प्रोत्साहन के रूप में दी जाएगी।

Post a Comment

0 Comments