वन्य-प्राणी अंगीकरण योजना में स्टेट बैंक ने 2 वन्य-प्राणियों को एक साल के लिया गोद

भोपाल : वन विहार राष्ट्रीय उद्यान में “वन्य-प्राणी अंगीकरण अभिनव योजना” में एक बार फिर से पुन: पर्यावरण तथा वन्य-प्राणियों के संरक्षण के प्रति अपनी प्रतिबद्धता प्रदर्शित कर बुधवार को एक साथ एक नर बाघ ‘पन्ना’ और मादा बाघ ‘रिद्धी’ को भारतीय स्टेट बैंक के स्थानीय प्रधान कार्यालय द्वारा एक वर्ष के लिये गोद लिया गया है।

वन विहार उद्यान के संचालक एच.सी. गुप्ता को भारतीय स्टेट बैंक समूह के मुख्य महाप्रबंधक विनोद कुमार मिश्रा ने दोनों वन्य-प्राणियों के लिये आवश्यक राशि एक लाख रुपये का चेक प्रदत्त किया। इसके पहले भारतीय स्टेट बैंक द्वारा 31 जनवरी, 2010 को पहली बार मादा बाघ ‘सीता’ को एक साल के लिये गोद लिया गया था। इसके बाद स्टेट बैंक समूह द्वारा इन दोनों वन्य-प्राणी सहित 15 वन्य-प्राणियों को गोद लिया जा चुका है। इस तरह 82 वन्य-प्राणियों को गोद लिया जा चुका है। इससे वन विहार को 65 लाख 37 हजार 580 रुपये की आय प्राप्त हो चुकी है।

उल्लेखनीय है कि वन विहार राष्ट्रीय उद्यान में वन्य-प्राणी अंगीकरण योजना एक जनवरी, 2019 से प्रारंभ की गई थी।

Post a Comment

0 Comments