मां ने तेंदुए के जबड़े से निकाला बच्चा, हौंसले की सीएम ने भी की तारीफ

एक मां ने अपने बच्चे को तेंदुए के जबड़े से बचा लिया। बताया जा रहा है कि तेंदुआ महिला के बच्चे को झोपड़ी के अंदर से अपने जबड़े में जकड़ कर जंगल की तरफ ले गया था। अपने 8 साल के बच्चे को बचाने के लिए महिला जंगल में तेंदुए का पीछा करते हुए पहुंच गई। इसके बाद यह श्शेरनीश् मां तेंदुए से भिड़ गई। बताया जा रहा है कि बच्चे को गहरे जख्म लगे थे और महिला भी तेंदुए से लड़ाई में गंभीर रूप से जख्मी हो गई थी। थोड़ी देर तक तेंदुए से जूझने के बाद महिला अपने बेटे को जिंदा वापस ले आई। महिला की बहादुरी की तारीफ वन विभाग के कर्मचारियों और राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी की है।

मामला मध्य प्रदेश का है।वन विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यह घटना रविवार की रात बडी झरिया गांव में हुई है। यह गांव राज्य के सिधी जिले के संजय टाइगर रिजर्व के क्षेत्र में आता है। यह जगह राजधानी भोपाल से करीब 500 किलोमीटर दूर है। बताया जा रहा है कि किरण नाम की यह आदिवासी महिला अपनी झोपड़ी के बाहर आग जला कर बैठी हुई थी ताकि वो अपने तीनों बच्चों को ठंड से बचा सके। अचानक ही वहां एक तेंदुआ आ गया और पल भर में ही उसने महिला के एक बेटे राहुल को अपने जबड़े में दबोच लिया और जंगल की तरफ भाग निकला।

अचानक हुई इस घटना से महिला स्तब्ध रह गई। महिला ने तुरंत अपने अन्य दो बच्चों को झोपड़ी में सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया और उस रास्ते की तरफ चल पड़ी जिधर तेंदुआ उसके बच्चे को लेकर गया था। टाइगर रिजर्व के निदेशक वाई पी सिंह ने कहा कि महिला ने तेंदुए का करीब 1 किलोमीटर तक पीछा गया। लेकिन यह तेंदुए झाड़ियों में छिप गया और उसने अपने जबड़े से बच्चे को जमीन पर रख दिया।

Post a Comment

0 Comments