कहर बरपा रहे डेंगू व बुखार ने दो और लोगों की जान ली

कानपुर।  जिले में कहर बरपा रहा डेंगू व बुखार का प्रकोप थमने के बजाय बढ़ता जा रहा है। मंगलवार को भी दो और लोगों की बुखार ने जान ले ली। इनके सहित मरने वालों की संख्या बढ़कर 122 हो गई है।
जिले में कस्बों से लेकर गांवों तक डेंगू व बुखार का प्रकोप जानलेवा बना है। बड़ी संख्या में लोग बुखार की चपेट में हैं। डेंगू की जांच का इंतजाम न होने व रैपिड किट से जांच में हो रही लापरवाही से पलेटलेट्स गिरने से गंभीर बुखार पीडि़तों की जान पर बन रही है। डेंगू के तेजी से पांव पसारने तथा लगातार हो रही मौतों के बाद भी जिम्मेदार बीमारी के प्रति गंभीर नहीं हैं।

स्वास्थ्य केंद्रों के रेफर सेंटर बने होने से जिला अस्पताल में बड़ी संख्या में मरीज पहुंच रहे हैं। यहां डेंगू वार्ड सहित अधिकांश बेड मरीजों से भरे होने के कारण मरीजों को भर्ती कर उपचार करने के बजाय दवा देकर टरकाया जा रहा है। इससे मौतों का ग्राफ बढ़ रह है। मंगलवार को भड़पुरा मुंगीसापुर के प्रेम नारायण की पत्नी मुन्नी देवी (45) की बुखार ने जान ले ली। वह कई दिन से बुखार से पीडि़त थीं,इसी तरह मैथा ब्लॉक के नौगांव लालपुर के गोधन (70) की भी बुखार ने जान ले ली।

Post a Comment

0 Comments