OSD की कुर्सी पर बैठते ही पति की याद में फूटकर रोईं मीनाक्षी!

लखनऊ। गोरखपुर में पुलिस की बर्बरता का शिकार हुए व्यवसायी मनीष गुप्ता की मौत के करीब 15 दिन बाद उनकी पत्नी को सरकारी नौकरी मिल गई. उन्होंने मंगलवार को कानपुर के केडीए विभाग में ओएसडी के पद का कार्यभार संभाला। इस दौरान कुर्सी पर बैठते ही पति को याद कर भावुक हो गईं। इतना ही नहीं वह फूट-फूट कर रोती नजर आईं।

मनीष गुप्ता की 27 सितंबर को गोरखपुर पुलिस ने पीट-पीट कर हत्या कर दी थी. जिस पर काफी हंगामा हुआ था, जिसे लेकर विपक्ष के तमाम नेताओं ने पीड़ित परिवार के घर जाकर यूपी सरकार से न्याय की मांग की. इस बीच सीएम योगी ने मृतक की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता से मुलाकात कर सरकारी नौकरी, परिवार को 40 लाख की आर्थिक मदद, घटना की सीबीआई जांच और एसआईटी गठित करने का आश्वासन दिया.

बता दें कि रविवार को कानपुर से बीजेपी विधायक सुरेंद्र मैथानी और केडीए के अतिरिक्त सचिव गुडकेश शर्मा मीनाक्षी गुप्ता के घर पहुंचे. जहां उन्होंने मनीष की पत्नी मीनाक्षी को ओएसडी (ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी) पद पर नियुक्ति पत्र सौंपा। 

जिसमें कहा गया था कि वह सोमवार को अपने पद से जुड़ सकती हैं। हालांकि मनीष गुप्ता के सोमवार को तेरहवें दिन होने के कारण उन्होंने मंगलवार को ओएसडी पद का कार्यभार संभाला।

Post a Comment

0 Comments