मीडिया फिल्म्सक्राफ्ट का सॉन्ग ‘मिलके दिवाली मनाएंगे’ हुआ रिलीज, प्यार की भावनाओं को दर्शाता है यह गाना

दीपावली का त्यौहार नजदीक है ऐसे में अलग-अलग तरह के ब्रांड्स अपने प्रोडक्ट को बेचने के लिए तरह-तरह के कैम्पेन चला रहें हैं, लेकिन मीडिया फिल्म्स क्राफ्ट और नवरोज प्रासला प्रोडक्शंस इस कैम्पेन को एक अलग ही लेवल पर ले गएं है। 

मीडिया फिल्म्स क्राफ्ट और नवरोज प्रासला प्रोडक्शन का 'मिलके दिवाली मनाएंगे' सॉन्ग रिलीज हो चुका है जिसमें मानवता के साथ, दीपावली फेस्टिवल को भी बहुत ही खास तरह से हाईलाइट किया गया है।

मीडिया फिल्म्स क्राफ्ट और नवरोज प्रासला प्रोडक्शन द्वारा जारी किया गया सॉन्ग सिर्फ एक सॉन्ग ही नहीं है बल्कि यह हमारे समय की वास्तविकता है। लगभग 2 साल तक कोरोना वायरस जैसी भयंकर महामारी से जूझने के बाद और इस महामारी में अपनों को खोने के बाद लोग  अकेले होने के साथ साथ  दुखी और उदास है। इस गाने और कैम्पेन को बनाने के पीछे का विचार यही है कि हम सभी जाति, धर्म, विश्वास, जातीयता और सामाजिक स्तर को शामिल करें, ताकि हर किसी की दिवाली को खास बनाया जा सकें।

दीपावली का त्योहार न केवल बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है, बल्कि यह प्यार, विश्वास, दया और एक दूसरे की देखभाल का भी प्रतीक है। टीम मीडिया फिल्म्सक्राफ्ट ने इसी को एक यूनीक तरीके से अपने नए सॉन्ग 'मिलके दिवाली मनाएंगे' में दिखाने की कोशिश की है। 

'मिलके दिवाली मनाएंगे' गाने को संदीप जायसवाल ने गाया है, लिरिक्स गौरव महेश्वरी ने लिखें हैं जबकि गौरव सिंह द्वारा इसे कंपोज किया गया है। 

इस गाने में, लोगों तक पहुंचने और उन्हें अपना समय, ध्यान और प्यार देने जैसी चीजों को बहुत ही खूबसूरती से हाईलाइट किया गया है। इस गाने का मैसेज सिंपल होने के साथ ही बहुत स्ट्रांग भी है, जो है- किसी की मुस्कुराहट की वजह बनो और आशा की किरण बनो, जिसे हर कोई तब से ढूंढ रहा है जब से यह महामारी शुरू हुई है।

कोविड  की वजह से पिछले दो सालों से सिर्फ दुखभरी खबरें ही सुनने को मिल रहीं हैं, हर कोई दुखी है, अकेला है और परेशान भी है। इसलिए यह दिवाली आप इसे टीम मीडिया फिल्म्सक्राफ्ट की तरह से मनाइये। ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचिए, चाहे वह वर्कर हो, डॉक्टर हो, फ्रंटलाइनर हो, शिक्षक हो, पड़ोसी हो, या फिर कोई भी हो, उनकी आशा की किरण बनिए, और अंधकार को उजालों से भर दीजिये। 

टीम मीडियाक्राफ्ट के साथ जुड़कर अपना थोड़ा सा समय देकर, यह दीवाली दूसरों के साथ मनाएं, क्योंकि आपका थोड़ा सा समय उनके लिए किसी खास उपहार से कम नहीं होगा।

Post a Comment

0 Comments