इस देश में महंगाई से हाहाकार, 14,000 रुपए में बिक रहा शैंपू, एक किलो चीनी की कीमत हुई इतनी

वैसे तो उत्तर कोरिया में पिछले कई सालों से खाने की कमी होना आम बात हो गई है, लेकिन इस समय उत्तर कोरिया के हालात बेहद खराब हो गए हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक देश के पास सिर्फ दो महीने का खाना बचा है. आलम ऐसा हो गया है कि किम जोंग उन को खुद यह स्वीकार करना पड़ रहा है कि उत्तर कोरिया के लोग अनाज से मोहित हो रहे हैं।

उत्तर कोरिया में आसमान पर पहुंची महंगाई

उत्तर कोरिया में चीनी, सोयाबीन तेल और आटे की कीमतों में लगातार इजाफा हो रहा है। उत्तर कोरिया में एक किलो मक्के की कीमत 3137 वोन तक पहुंच गई थी। यह 200 रुपये प्रति किलो के बराबर है। जून 2021 में उत्तर कोरिया में कीमतें बढ़ने लगीं, जो अब आसमान पर पहुंच गई हैं।

उत्तर कोरिया में महंगाई की मार

कॉफी - 7300 रुपये प्रति किलो
चाय की पत्ती - 5100 रुपये प्रति किलो
शैंपू की बोतल - रु 14000
मक्का - 204 रुपये प्रति किलो
केला - 3300 रुपये प्रति किलो

Post a Comment

0 Comments