12 हज़ार KM की ‘‘कांग्रेस प्रतिज्ञा यात्रा: हम वचन निभायेंगें’ यात्रा निकालेगी कांग्रेस

लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस, योगी सरकार की अर्कमण्यता, जनता से की गई वादाखिलाफी और प्रदेश में व्याप्त भ्रटाचार, मंहगाई, बढ़ते अपराध, महिला हिंसा, बेतहाशा बेरोजगारी और लचर स्वास्थ्य सेवा जैसे ज्वलंत जनमुद्दों को लेकर प्रदेश भर में ‘‘कांग्रेस प्रतिज्ञा यात्रा‘‘ निकालने जा रही है। प्रदेश के चार क्षेत्रों में कुल 12000 किलोमीटर की यह यात्रा जनाक्रोश को स्वर देगी और जनता के बीच कांग्रेस के असल विकल्प होने का दावा पेश करेगी। 

ये जानकारी देते हुए कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता सचिन रावत ने आईपीएन को बताया कि उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के निर्देश पर पार्टी और उससे जुड़े संगठन हर स्तर पर खुद को मजबूत बनाने में जुटे हैं। शुक्रवार को श्रीमती गाँधी ने प्रदेश कार्यालय पहुँचकर उत्तर प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री. गोविन्द बल्लभ पंत की जयंती पर उनके चित्र पर मार्ल्यापण  करके और परमवीर चक्र विजेता वीर अब्दुल हमीद की शहादत दिवस पर उन्हें श्रद्धांजलि देने के साथ समीक्षा बैठकों की शुरुआत की।

रावत ने बताया कि आगामी विधान सभा चुनाव 2022 को लेकर पार्टी अपने चुनावी अभियान के तहत ‘‘कांग्रेस प्रतिज्ञा यात्रा: हम वचन निभायेंगें’’ नाम से 12 हजार किलोमीटर की यात्रा प्रदेश के तमाम बड़े शहरों, कस्बों और गांवो से होकर गुजरेगी। यह निर्णय उत्तर प्रदेश कांग्रेस प्रभारी एवं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की मौजूदगी में पार्टी की सलाहाकार और रणनीति कमेटी ने लिया। कमेटी की बैठक में आगामी विधान सभा से जुड़े चुनाव अभियानों और कार्यक्रमों पर गहन मंथन किया गया। यात्रा के दौरान होने वाले कार्यक्रमों की रूपरेखा और रूट निर्धारण को लेकर प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत सलाहकार एवं रणनीति कमेटी के सदस्यों के साथ श्रीमती गांधी ने व्यापक विचार विमर्श किया।

रावत ने बताया कि श्रीमती गांधी ने बैठक में ‘‘उत्तर प्रदेश कांग्रेस चुनाव समन्वय समिति’’ के सदस्यों के साथ क्षेत्रवार  चुनावी रणनीति को लेकर तमाम बिंदुओं पर चर्चा की। साथ ही आगामी विधानसभा चुनाव के लिए संभावित प्रत्याशियों, चुनाव प्रबंधन, प्रचार अभियान कार्यक्रमों इत्यादि को लेकर सदस्यों से राय मांगी। क्षेत्रवार समीक्षा के दौरान पूर्वांचल, बुन्देलखण्ड, मध्य उत्तर प्रदेश और आगरा क्षेत्र से सम्बन्धित प्रभारियों, प्रदेश उपाध्यक्षों, प्रदेश महासचिवों, प्रदेश सचिवों, जिला और शहर अध्यक्षों से संगठन सृजन पर लिखित रिपोर्ट मांगी गयी। श्रीमती गांधी ने उत्तर प्रदेश की 58 हजार ग्राम सभाओं में इस माह के अंत तक कांग्रेस के ग्राम सभा अध्यक्ष और उनकी कमेटियों के गठन के अनिवार्यता को लेकर सख्त निर्देश दिया है।

रावत ने बताया कि प्रियंका के कमान संभालने के बाद प्रदेश में 831 ब्लाक कमेटियों का गठन किया जा चुका है। इनके पदाधिकारियों की संख्या लगभग 20,775 है। इसके अलावा 8,134 न्याय पंचायत कमेटियाँ गठित की गयीं हैं जिनके अध्यक्षों और अन्य पदाधिकारियों की कुल संख्या 1 लाख 70 हजार 814 है। इनके सत्यापन के साथ शहर कमेटियों के अर्न्तगत आने वाले 2614 वार्ड कमेटियों के गठन की प्रक्रिया भी जारी है। प्रियंका गाँधी ने इन तमाम सांगठनिक प्रक्रियाओं की विस्तार से समीक्षा की।

इन बैठकों में उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, कांग्रेस विधानमण्डल दल नेता अराधना मिश्रा, राष्ट्रीय सचिव/प्रभारी धीरज गुर्जर, राष्ट्रीय सचिव बाजीराव खाड़े, सचिन नाईक, रोहित चौधरी, राजेश तिवारी, तौक़ीर आलम के अलावा प्रमोद तिवारी, पी.एल.पुनिया, बेग़म नूर बानो, मोहसिना क़िदवई, ज़फ़र अली नक़वी, नसीमुद्दीन सिद्दीकी, इमरान मसूद, राजाराम पाल, राजेश मिश्र सहित पार्टी के तमाम वरिष्ठ नेता मौजूद थे।

Post a Comment

0 Comments