सार्वजनिक रास्ता क्षतिग्रस्त करने की शिकायत, गुलाबी गैंग भी मैदान में कूदा

फतेहपुर। सदर तहसील के ग्राम महादेवपुर निवासी प्रदीप कुमार मौर्य एडवोकेट ने आज कलेक्ट्रेट पहुंचकर उप जिलाधिकारी को एक शिकायती पत्र सौंपते हुए बताया कि ग्राम महादेवपुर जनपद फतेहपुर में सार्वजनिक रास्ते की भूमि गाटा संख्या 370 व 372 में गांव के ही बृजेश कुमार द्विवेदी पुत्र दयाशंकर द्विवेदी द्वारा अपने सहयोगी रितु पुत्र शीतला प्रसाद दुबे व नंदू पुत्र राजेश उर्फ मुन्ना दुबे के साथ मिलकर अवैध चढ़ाई बना कर सर्वजनिक रास्ता क्षतिग्रस्त कर दिए हैं जिसके कारण प्रदीप कुमार मौर्य द्वारा दिनांक 13 जनवरी को दिया गया था जिसमें टीम गठित कर चकरोड की पैमाइश कराते हुए कार्रवाई हेतु आदेशित किया गया था जिसके परिपेक्ष में राजेश टीम मौके पर गई और मौके की पैमाइश के पश्चात उपरोक्त बृजेश कुमार द्विवेदी द्वारा बनवाई गई चढ़ाई अवैध पाई गई जिस संबंध में क्षेत्रीय लेखपाल द्वारा आईजीआरएस में दी गई रिपोर्ट में भी उल्लेख किया गया। 

रास्ते में हो रही चढ़ाई निर्माण को ध्वस्त करा दिया गया हालांकि उस समय राज्य स्टीम बृजेश कुमार द्विवेदी की आवाज चढ़ाई दोस्त नहीं कराया था सिर्फ अग्रिम निर्माण रोका गया था अभी कुछ दिन पूर्व क्षेत्रीय लेखपाल रामदत्त अवस्थी व राजस्व निरीक्षक अशोक मिश्रा दोनों ने मिलकर बृजेश कुमार द्विवेदी व उसके सहयोगियों के साथ साजिश पूर्व षड्यंत्र किया और साजिश एवं षड्यंत्र के तहत रुकी हुई अवैध चढ़ाई को पुनः बनाने हेतु कह दिया जिससे रोग बृजेश कुमार द्विवेदी पुना रास्ते में चढ़ा हुआ दीवार बनाने लगा तब हम लोगों ने पुनः प्रार्थना पत्र देकर कार्रवाई की मांग की किंतु लेखपाल रामदत्त अवस्थी व कानूनगो अशोक मिश्रा जातिवादी वारिस पक कोरी के कारण उपरोक्त बृजेश कुमार द्विवेदी द्वारा किया जा रहा अवैध निर्माण को रोक के उलटे हम लोग सहित अन्य काश्तकारों की भूमि हरिभूमि में जबरदस्ती एवं मनमानी तरीके से रास्ता निकालने पर आमदा हो गए जब कई चढ़ाई पूर्व की आख्या में ही अवैध घोषित हो चुकी है फिर भी मनमानी की जा रही है जिससे पूरे गांव में तनाव व्याप्त है भयंकर विवाद होने की संभावना है यदि ऐसा कुछ होता है तो उसकी संपूर्ण जिम्मेदारी रास्ते में अवैध निर्माण कराने वालों के साथ-साथ लेखपाल व कानूनगो व शासन प्रशासन की होगी अतः उप जिलाधिकारी से मांग है कि मामले की संवेदनशीलता एवं किसी बड़ी वारदात के मद्देनजर जातिवाद एवं रिश्वतखोर लेखपाल व कानूनगो उत्तर काल हटाते हुए उच्च स्तरीय जांच करा कर कड़ी कार्रवाई की जावे तथा सार्वजनिक रास्ते में बनाई गई लड़ाई हटा कर रास्ता खुलवाया जाए।

Post a Comment

0 Comments