पुलिस ने कसी नशा कारोबारियों पर नकेल तो लोगों ने की पुष्प वर्षा

अज़हर मलिक

काशीपुर। नशे के खिलाफ उत्तराखंड पुलिस ने भले ही अभियान छेड़ा हो, लेकिन उधमसिंह नगर पुलिस ने इस अभियान को सार्थक रूप देकर नशे के कारोबारियों को जेल की सलाखों के पीछे या प्रदेश से ही बाहर खदेड़ दिया है। 

काशीपुर सीओ ने नशे के खिलाफ अभियान में स्मैक के सबसे बडे कारोबार के नेटवर्क को ब्रेक करने के साथ ही डोडा और अफीम के कारोबारियों पर भी सख्त कार्यवाही की है, जिसके बाद से नशे के कारोबारियों में हड़कंप मचा हुआ है। 

पुलिस की नशे के खिलाफ अब तक की सबसे बड़ी कार्यवाही से क्षेत्रीय लोगों ने राहत की सांस ली है, वहीं स्थानीय लोगों ने फूलों की वर्षा कर पुलिस का धन्यवाद दिया।

बीते समय उड़ता पंजाब के तर्ज पर काशीपुर को भी उड़ता काशीपुर कहने लगे थे काशीपुर में नशे के सौदागरो का नेटवर्क लगातार बढ़ता जा रहा था जिससे युवा पीढ़ी नशे की चाह में अपराध करने से भी नहीं चूक रही थी। जिस पर अंकुश लगाना पुलिस के लिए नामुमकिन साबित हो रहा था। लेकिन, 2018 बेच में सेलेक्ट हुए आईपीएस अधिकारी अक्षय प्रह्लाद कोंडे ने सीओ सिटी का चार्ज संभालते ही डीआईजी के आदेशोंं को महत्व देते हुए नशे के विरुद्ध एक बड़ा अभियान कहां आह्वान किया। 

सीओ अक्षय प्रह्लाद कोंडे नेतृत्व में स्मैक, चरस, डोडा और अफीम जैसे कोरोबारियों के नेटवर्क को पुरी तरह से तोडते हुे इस कारोबार से जुड़े ज्यादातर लोगों को जेल भेज दिया है, वहीं बहुत से कारोबारी प्रदेश छोडने को ही मजबूर हो गये, नशे के कारोबार से जुड़े कारोबारियों पर इससे पहले कभी इतनी बड़ी कार्यवाही नहीं की गयी थी,अक्षय प्रह्लाद कोंडे की इस ताबड़तोड़ कार्यवाही नशे के सौदागरों में खलबली सी मच गई। 

वहीं दूसरी और क्षेत्र में काफी हद तक नशे के कारोबार पर अंकुश भी लगता हुआ दिखाई दे रहा है। जिसे स्थानीय लोगों में खुशी का माहौल बना हुआ, और स्थानीय लोगों ने काशीपुर पर गंगा बाबा रोड पर पुलिस की प्रशंसा की और धन्यवाद देते हुए पुलिस का फूल मालाओं से स्वागत किया। 

पुलिस ने भी जनता को आश्वासन दिया कि क्षेत्र में नशे कारोबारियों बिल्कुल भी पनपने नहीं दिया जाएगा। और कोई भी समाज में नशे का जहर फैलाने की कोशिश करता है तो उस के खिलाफ कठोर कानूनी कार्यवाही की जाएगी।

काशीपुर सीओ अक्षय प्रह्लाद कोंडे का कहना है पुलिस द्वारा नशे के सौदागरों की मॉनिटरी की गई और उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही करते हुए उनको जेल में भेज दिया गया। काशीपुर शिवाने फरार नशे के सौदागरों को सख्त हिदायत दी है कि प्रदेश के अंदर एंटर ना करें और अगर काशीपुर में आते भी हो नशे के कारोबार करने की कोशिश भी ना करें अगर की तो आप पर फिर से कानूनी कार्रवाई होगी।

Post a Comment

0 Comments