परिजनों ने किया नाबालिग़ का सौदा, पुलिस ने दो महिलाओं समेत तीन को किया गिरफ़्तार

अज़हर मलिक
काशीपुर।
काशीपुर में एक नाबालिक युवती की सूझ बूझ ने उसको मानव तस्करों के चंगुल से बचा लिया। जिस पर तत्परता दिखाते हुए काशीपुर पुलिस ने मानव तस्करी में लिप्त दो महिलाओं समेत तीन को गिरफ्तार करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है। वहीं मानव तस्करी में लिप्त पांच आरोपी पुलिस की पकड़ से फरार है जिनके लिए जनपद पुलिस ने जाल बिछाया हुआ है।

आपको बता दें कि बीते दिवस ग्राम किलावली थाना कुंडा की एक नाबालिक युवती ने 112 नंबर पर पुलिस को कॉल कर सूचना दी थी। उसके परिजनों ने कुछ लोगो से हमसाज हो उसको राजस्थान के जिला रेवाड़ी निवासी टोनी पुत्र महेंद्र सिंह के हाथो बीते माह 14 जनवरी को बेच दिया था। जिनके चंगुल से बचकर वह बिगत दिवस काशीपुर भाग आई तो उसके मौसा और मौसी आज आरोपी टोनी के साथ जबरन उसको पुनः अपने साथ ले जाने के लिए दबाव बना रहे है। 

सूचना पर काशीपुर पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए थाना कुंडा के ग्राम किलावाली में युवती के घर आरोपियों की धरपकड़ को दबिश डाली जहां से आरोपी बच निकाल भागे। लेकिन काशीपुर पुलिस ने काशीपुर में जाल बिछाते हुए नगर की बड़ी नहर के पास से मानव तस्करी में लिप्त पीड़िता की मौसी-मौसा समेत युवती की मां को गिरफ्तार कर लिया है। 

वहीं पीड़िता के तथाकथित पति टोनी पुत्र महेंद्र सिंह समेत मानव तस्करी में लिप्त चार अन्य आरोपी भागने में सफल हो गए जिसके बाद वांछित इन पांचों आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस टीमों को रवाना किया है।

मीडिया से वार्तालाप करते हुए सहायक अपर पुलिस अधीक्षक और काशीपुर क्षेत्राधिकारी अक्षय प्रलाद कोंडे ने मामले का खुलासा करते हुए कहा कि जल्द फरार आरोपियों को भी गिरफ्तार कर जैल की सलाखों के पीछे डाला जाएगा।

Post a Comment

0 Comments