फैक्ट्री में धमाका, विस्फोट होने से छत उड़ी

लखनऊ। सीतापुर जिले में एक कारतूस फैक्ट्री में आधी रात को जोरदार धमाका हुआ. धमाका इतना जोरदार था कि धमाका सुनकर आस-पड़ोस के लोग अपने घरों से बाहर निकल आए। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, विस्फोट में फैक्ट्री की छत उड़ गई और फैक्ट्री में रखे गोला-बारूद और कारतूसों से आग तेजी से फैलने लगी, आग इतनी भयानक थी कि फैक्ट्री में रखे कारतूस जलने लगे और आग की तेज आवाज आने लगी। आग की सूचना पर मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ी ने काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया. जिसके बाद एक बड़ा हादसा होते-होते टल गया।

आपको बता दें कि यह कारतूस फैक्ट्री रिहायशी इलाके में चलाई जा रही थी। फैक्ट्री का लाइसेंस दिसंबर 2021 तक वैध है। इस कार्ट्रिज फैक्ट्री पर 2011 में तत्कालीन सीओ सिटी ने छापा मारा था। जिसके बाद इस फैक्ट्री को सील कर दिया गया था। फैक्ट्री का लाइसेंस 1981 से पाहवा मैन्युफैक्चरिंग के नाम से बना था, लेकिन फिलहाल यह फैक्ट्री रिहायशी इलाके में चल रही थी। जिससे जिला प्रशासन पर बड़े सवाल उठना लाजमी है।

वहीं इस हादसे के बारे में सीओ सिटी पीयूष कुमार सिंह का कहना है कि शहर कोतवाली क्षेत्र में पाहवा मैन्युफैक्चरिंग के नाम से एक फैक्ट्री चल रही थी, इसका लाइसेंस 1981 में दिया गया था, उनके द्वारा रिकॉर्ड उपलब्ध कराया गया था. तदनुसार, उनका लाइसेंस दिसंबर 2021 तक वैध है।

Post a Comment

0 Comments