Wednesday, 2 June 2021

भगोड़े मेहुल चोकसी को भारत लाने की कोशिशें तेज, डोमिनिका पहुंची सीबीआई और ईडी की टीम

नई दिल्ली। भारतीय बैंकों का हजारों करोड़ रुपये लेकर देश से फरार पंजाब नेशनल बैंक घोटाले का आरोपी हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी को भारत लाने की तैयारी शुरू हो गई है। मेहुल चोकसी को वापस लाने के लिए केंद्रीय एजेंसियों की छह सदस्यीय तेजतर्रार टीम डोमिनिका पहुंच गई है। कैरिबियाई अदालत ने यदि चोकसी को भारत प्रत्यर्पण की अनुमति दी तो यह टीम उसे देश वापस लाएगी। मेहुल चोकसी को वापस एंटीगुआ भेजा जाएगा या फिर भारतीय एजेंसियों को कस्टडी दी जाएगी, इस पर डोमिनिका की अदालत आज फैसला करेगी। 

उल्लेखनीय है कि चोकसी 2018 से एंटीगुआ में वहां की नागरिकता लेकर रह रहा है। वह इस साल 23 मई को एंटीगुआ और बारबूडा से रहस्यमय तरीके से गायब हो गया था। बाद में उसे डोमिनिका में अवैध तरीके से घुसने के लिए गिरफ्तार कर लिया था। पिछले हफ्ते ही ही भारत से चोकसी के खिलाफ दस्तावेजी सुबूतों के साथ एक जेट भेजा गया था। जिन्हें अदालत में सुनवाई के दौरान पेश किया जाएगा और अदालत को बताया जाएगा कि वह भारत का नागरिक है और वहां से बैंक में धोखाधड़ी करके भागा है।

चोकसी और उसके भतीजे नीरव मोदी पर कुछ बैंक अधिकारियों की मिलीभगत से पीएनबी के साथ कथित तौर पर 13,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने का आरोप है। नीरव मोदी अभी लंदन की एक जेल में बंद है। दोनों के खिलाफ सीबीआई जांच कर रहा है।

Previous Post
Next Post

post written by:

0 comments: