Friday, 11 June 2021

प्रथम वर्ष के सभी विद्यार्थियों को किया जाएगा प्रमोट

दानिश उमरी
आगरा।
डॉ भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय के खंदारी परिसर स्थित अतिथि गृह में परीक्षा समिति की बैठक कुलपति प्रोफेसर अशोक मित्तल की अध्यक्षता में संपन्न हुई। 

जिसमें शैक्षिक सत्र  2020-21 के विद्यार्थियों को प्रोन्नत किए जाने/उनकी परीक्षाएं आयोजित किए जाने के संबंध में सर्वसम्मति से निम्न निर्णय लिए गए -
1-वार्षिक प्रणाली के पाठ्यक्रमों में स्नातक द्वितीय और तृतीय वर्ष की और स्नातकोत्तर अंतिम वर्ष की परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी।

2-स्नातक प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों को प्रोन्नत किया जाएगा और वर्ष 2022 में द्वितीय वर्ष की परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर उनके प्रथम वर्ष के अंक निर्धारित किए जाएंगे।
3-इसी प्रकार स्नातकोत्तर पूर्वार्द्ध के छात्रों को उत्तरार्द्ध में प्रोन्नत किया जाएगा और उनकी वर्ष 2022 की उत्तरार्ध की परीक्षाओं के आधार पर उनके पूर्वार्द्ध के अंक निर्धारित किए जाएंगे।
4-सेमेस्टर प्रणाली में चल रहे स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाएं संपन्न कराई जाएंगी।

5-समस्त परीक्षाएं ओ.एम.आर. पर आधारित होंगी । परीक्षा की अवधि डेढ़ घंटा होगी और कुल 100 वस्तुनिष्ठ प्रश्नों में से विद्यार्थियों को 50 प्रश्नों के उत्तर देने होंगे।
6- जुलाई के तीसरे सप्ताह से वार्षिक परीक्षाएं प्रारंभ होंगी जो 15 अगस्त तक चलेंगी और 31 अगस्त तक परिणाम घोषित किया जाएगा।
7 - प्रायोगिक परीक्षा वाले विषयों में प्रायोगिक परीक्षा और मौखिकी को मिलाकर केवल मौखिकी संपन्न कराई जाएगी । मौखिक परीक्षाओं की वीडियोग्राफी अनिवार्य होगी और 75% से अधिक अंक नहीं दिए जा सकेंगे। 

8-सभी मौखिक परीक्षाएं 01 से 15 जुलाई तक संपन्न कराई जाएंगी , जिससे निर्धारित अवधि के अंदर परिणाम घोषित किया जा सकें।
9-एलएलबी और  बीएएलएलबी अंतिम वर्ष 2020 में जो छात्र छात्राएं बहुत कम अंकों से अनुत्तीर्ण हो गए हैं, उनके प्रत्यावेदन पर विचार किया गया और यह निर्णय हुआ कि वह किन्हीं  दो प्रश्न पत्रों में पुनः परीक्षा दे सकते हैं।
बैठक की अध्यक्षता कुलपति प्रोफेसर अशोक मित्तल जी ने की और कुलसचिव डॉ अंजनी कुमार मिश्र, परीक्षा नियंत्रक डॉ राजीव कुमार, वित्त अधिकारी श्री ए के सिंह, प्रोफेसर उमेश चंद शर्मा,  प्रोफेसर प्रदीप श्रीधर, प्रोफेसर पी.के. सिंह , प्रोफेसर अनिल वर्मा, औटा के अध्यक्ष डॉ ओमवीर सिंह, महामंत्री डॉ भूपेंद्र चिकारा, डॉ निर्मला यादव और सहायक कुलसचिव पवन कुमार उपस्थित रहे।

Previous Post
Next Post

post written by:

0 comments: