पंजाब के बाद दिल्ली को भी वैक्सीन देने से मॉडर्ना ने किया इनकार

विदेश से टीके नहीं मंगाएगा बिहार

नई दिल्ली।
विदेशी फार्मा कंपनी फाइजर और मॉडर्ना ने दिल्ली सरकार को भी वैक्सीन देने से इनकार कर दिया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने खुद इसकी जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि दोनों कंपनियों ने हमें सीधे वैक्सीन बेचने से मना कर दिया है। आपको बता दें कि इससे पहले मॉडर्ना ने पंजाब सरकार को भी यही जवाब दिया था। कंपनी ने कहा था कि वह सीधे केंद्र सरकार को टीके देगी।
अमेरिका की कोविड-19 टीका निर्माता कंपनी मॉडर्ना ने सीधे पंजाब सरकार को टीका भेजने से इंकार करते हुए कहा है कि उसका केवल केंद्र सरकार के साथ व्यवहार है। यह जानकारी रविवार को राज्य के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी थी।
टीके के लिए पंजाब के नोडल अधिकारी विकास गर्ग ने कहा था कि मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के निर्देश के मुताबिक सभी टीका निर्माताओं से सीधे तौर पर टीका खरीदने के लिए संपर्क किया गया जिनमें स्पूतनिक वी, फाइजर, मॉडर्ना और जॉनसन एवं जॉनसन शामिल हैं। उन्होंने कहा कि मॉडर्ना की तरफ से जवाब आया है जिसमें कंपनी ने राज्य सरकार के साथ समझौता करने से इनकार कर दिया है।
पंजाब सरकार ने बयान जारी कर कहा कि मॉडर्ना की नीति के मुताबिक, वह भारत सरकार के साथ व्यवहार रखती है न कि राज्य सरकार या किसी निजी पक्ष के साथ। इससे पहले मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी संभावित स्रोतों से टीका खरीदने के लिए वैश्विक स्तर पर निविदा जारी करने की संभावना तलाशें ताकि राज्य के लोगों का जल्द से जल्द कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण किया जा सके।
बिहार ने विदेश से टीके खरीदने से किया इनकार
कई राज्यों ने टीकों के लिए वैश्विक निविदाएं मंगाई हैं क्योंकि 18 से 44 आयु वर्ग के लिए खुराक कम है, लेकिन बिहार सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसके खिलाफ फैसला किया है। बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने संकेत दिया कि राज्य के वैश्विक टीकों की खरीदारी के लिए जाने की संभावना नहीं है। एनडीटीवी के साथ बातचीत में मंगल पांडेय ने कहा, अन्य राज्यों ने वैश्विक निविदाएं कैसे जारी कीं और उसके परिणाम क्या आए। उसे देखने की आवश्यक्ता है। मंत्री ने कहा, हमें 1 करोड़ 1 लाख टीके मिले। रविवार तक 98 लाख लोगों को टीका लगाया जा चुका है।
भारत में 19 करोड़ से अधिक लोगों को लग चुके हैं टीके
भारत में पिछले 24 घंटों के दौरान नौ लाख 42 हजार 722 लोगों को कोरोना के टीके लगाये गये। देश में अब तक 19 करोड़ 60 लाख 51 हजार 962 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। आपको बता दें कि कई राज्यों में वैक्सीन की कमी के कारण से 18-44 आयु वर्ग के लोगों के लिए चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान को राकना पड़ा है। हालांकि उत्तर प्रदेश में एक जून से सभी जिलों में बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियान चलाने की तैयारी है।
 

Post a Comment

0 Comments