Saturday, 24 April 2021

UP में अब नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी

लखनऊ। प्रदेश के सभी सरकारी व निजी अस्पतालों में कोविड-19 के वर्तमान संकट काल मेें उत्पन्न हुई ऑक्सीजन की समस्या से निपटने के लिए ‘‘ऑक्सीजन माॅनिटरिंग सिस्टम फाॅर यूपी’ नामक डिजीटल प्लेटफार्म तैयार किया गया है, जिसका उद्घाटन आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा किया गया है। यह व्यवस्था शुरू करने वाला उत्तर प्रदेश देश का प्रथम राज्य है।

अपर मुख्य सचिव, गृह, अवनीश कुमार अवस्थी ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि यह प्लेटफार्म प्रदेश के खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन, चिकित्सा शिक्षा विभाग, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, परिवहन एवं गृह विभाग के सहयोग से रोड़िक कंसल्टेंट प्रालि (Rodic Consultants Pvt. Ltd) द्वारा तैयार किया गया है। इस कम्पनी के प्रतिनिधि ऑक्सीजन की आवश्यकता वाले सरकारी एवं निजी अस्पतालों में मौजूद रहकर समयबद्ध रूप से ऑक्सीजन की सुगम आपूर्ति कराना सुनिश्चित करेंगे।

इस कार्य के लिए वेब पोर्टल/लिंक तैयार किया गया है। जिसको ऑक्सीजन सप्लाई चेन से जुडे अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा प्रयोग किया जा सकेगा। कम्पनी के प्रतिनिधिगण अस्पताल की ऑक्सीजन आवश्यकता का विवरण पोर्टल पर अपलोड करेंगें। पोर्टल पर ऑक्सीजन सप्लाई में लगे वाहनों की ऑनलाइन उपस्थिति को ट्रैक करते हुये निकटस्थ वाहन को अस्पताल के लिए रवाना किया जायेगा, इससे जहाॅ एक ओर वहां पर ऑक्सीजनकी माॅग शीघ्र पूर्ण होगी वहीं निर्धारित वाहन के पहुॅचने में लगने वाले समय की भी बचत होगी। प्रदेश में ऑक्सीजन की सप्लाई को देने वाले वाहनों की रियल टाइम लोकेशन की इस डिजीटल प्लेटफार्म के माध्यम से माॅनिटरिंग व ट्रेकिंग होने से अस्पतालों की माॅग पर यथाशीघ्र ऑक्सीजन की व्यवस्था सुलभ हो सकेगी। ऑक्सीजन सप्लाई कार्य में लगे वाहनों को इस प्लेटफार्म से जोड़ा जायेगा, ताकि उनकी रियल टाईम लोकेशन ज्ञात रहे। कम्पनी के प्रतिनिधि रिफिल स्टेशन पर भी उपस्थित रह कर इस कार्य में सहयोग करेंगे। यह भी प्रयास किया जा रहा है कि हर ऑक्सीजन वाहन पर ड्राईवर की पर्याप्त संख्या उत्पन्न रहें, ताकि निर्वाध गति से उनका आवागमन हो सके।

Previous Post
Next Post

post written by:

0 comments: