Sunday, 25 April 2021

केंद्र-चुनाव आयोग पर बरसीं ममता, चुनाव बाद जाएंगी सुप्रीम कोर्ट

कोलकाता। बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक बार फिर केंद्र सरकार और चुनाव आयोग पर निशाना साधा है। इतनी ही नहीं ममता ने यहा भी ऐलान किया है कि वह चुनाव बाद सुप्रीम कोर्ट में चुनाव आयोग को निष्पक्ष बनाने के लिए गुहार लगाएंगी।

एक कार्यक्रम के दौरान ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग पर बेहद गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने आयोग के अधिकारियों की कई व्हाट्स ऐप चैट दिखाई और कहा कि चुनाव आयोग पूरी तरह से बीजेपी के इशारों पर काम कर रहा है। ममता ने कहा कि बीजेपी के कहने पर ही बंगाल में 8 चरणों पर चुनाव करवाए गए और इसी वजह से बंगाल समेत पूरे देश में कोरोना का कहर बढ़ा है।

बढ़ते कोरोना मामलों के बीच EC सख्त, नई गाइडलाइन जारी

पश्चिम बंगाल में चुनावी सरगर्मी तो देखने को मिल रही है, लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों ने लोकतंत्र के इस त्योहार को फीका किया है। कई तरह की पाबंदियों के बीच अब निर्वाचन आयोग की तरफ से आज तमाम पदाधिकारियों संग एक समीक्षा बैठक की गई है। राज्य में बढ़ते कोरोना मामलों पर तो चर्चा हुई ही, इसके अलावा सख्त निर्देश भी जारी किए गए।

मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा और चुनाव आयुक्त राजीव कुमार की तरफ से ये स्पष्ट कहा गया है कि चुनाव के दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का पालन बहुत जरूरी है। वहीं नियमों का उल्लघंन करने वालों के खिलाफ राष्ट्रीय महामारी अधिनियम के तहत कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं। चुनावी प्रचार के दौरान हर गाइडालाइन का सख्ती से पालन हो, इसके लिए भी निर्वाचन आयोग की तरफ दिशा-निर्देश दिए गए हैं। वहीं क्योंकि राज्य में अब कोरोना का भयंकर विस्फोट हुआ है, ऐसे में मतदान अधिकारी की सुरक्षा पर भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक, अब मतदान अधिकारी और पूरी पोलिंग पार्टी को फेसमास्क, फेस शील्ड  हैंड सैनिटाइजर, पीपीई किट्स से लैस रखा जाएगा. पर्याप्त मात्रा ने इन सभी चीजों को राज्य में पहुंचाया गया है और मतदान अधिकारियों से इसके इस्तेमाल की अपील की गई है। मालूम हो कि इससे पहले भी निर्वाचन आयोग की तरफ से राजनीतिक दलों को लेकर कई तरह के निर्देश जारी किए गए हैं। रोड शो पर रोक लगाने से लेकर रैली में 500 लोगों की अनुमति तक, कई सख्त गाइ़डलाइन जारी की गई हैं। इन गाइडलाइन्स का अब असर भी दिखने लगा है और कई नेता वर्चुअल रैली पर जोर दे रहे हैं।

Previous Post
Next Post

post written by:

0 comments: