जमीनी विवाद में कराई गई थी हरीशचंद्र की हत्या

अमरोहा। अमरोहा नगर कोतवाली पुलिस ने प्रॉपट्री डीलर हत्याकांड का खुलासा कर हत्यारोपियों को आलाकत्ल सहित गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश किया गया। जहां से हत्यारोपियों को जेल भेज दिया।

बुधवार को प्रेसवार्ता के दौरान एसपी सुनीति ने प्रॉपट्री डीलर हरीशचंद्र की हत्या का खुलासा करते हुए बताया कि थाना अमरोहा नगर पर वादी राजपाल पुत्र स्व. भोलाराम निवासी मौहल्ला कटरा गुलाम अली द्वारा अपने भाई हरिश्चन्द्र सैनी की सात मार्च की रात्रि मौहल्ला तकिया मोती शाह में सैफी इंटर कॉलेज के पीछे जमीनी विवाद को लेकर गोली मारकर हत्या करने के संबंध में चार लोगों के नामदर्ज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। घटना की गंभीरता को देखते हुए स्वंय एसपी ने घटनास्थल का निरीक्षण किया और घटना के शीघ्र खुलासे के लिए तीन पुलिस टीम गठित कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए थे। जिस पर नगर कसेतवाली पुलिस ने नामदर्ज जाकिर हुसैन पुत्र तस्सदुक हुसैन निवासी मौहल्ला बसावनगंज और पूर्व सभासद कैलाश चंद्र पुत्र नौरंग लाल निवासी छेवड़ा थाना अमरोहा नगर को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही बुधवार को नगर कोतवाली पुलिस सूचना पर दोपहर कैलसा बाईपास रोड से उक्त घटना में संलिप्त दो आरोपी सलीम अहमद पुत्र छोटे घोसी निवासी मौहल्ला लकडा और उस्मान जान पुत्र अशरफ अली निवासी मौहल्ला कटकुई शिवद्वारा को गिरफ्तार किया गया।

गिरफ्तार आरोपियों की निशादेही पर सलेमपुर रोड पर कब्रिस्तान व बाउंड्री वाल के पास से कूडा करकट व घास में छिपाकर रखे गए आलाकत्ल दो तमंचा 12 बोर व 04 जिंदा कारतूस 12 बोर व तमंचों की नाल में फंसे दो खोखा कारतूस 12 बोर बरामद किए गए। पुलिस पूछताछ के दौरान गिरफ्तार आरोपियों ने बताया कि दोनो ने गत सात मार्च की रात्रि करीब 8.30 बजे मौहल्ला तकिया मोतीशाह में सैफी स्कूल के पीछे हरिश्चचन्द्र सैनी की गोली मारकर हत्या की थी, यह हत्या हमने जाकिर हुसैन निवासी मौहल्ला बसावन गंज अमरोहा नगर व कैलाश सभासद निवासी मौहल्ला छेबडा थाना अमरोहा के कहने पर की थी। क्योकिं इन दोनो का जमीनी विवाद मृतक हरिश्चचन्द्र सैनी से चल रहा था।

वहीं एसपी द्वारा हत्याकांड का खुलासा करने वाली टीम को 10 हजार रूपये का पुरस्कार घोषित किया। गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में कोतवाली प्रभारी रवीन्द्र सिंह, उपनिरीक्षक अनिल कुमार, सतेन्द्र पाल सिंह, प्रमोद कुमार, हेड कांसस्टेबल अनिल सर्विलान्स सेल, कांस्टेबल उमेश कुमार, सतेन्द्र कुमार, महिला कांस्टेबल विजय लक्ष्मी शामिल रही।

Post a Comment

0 Comments