सैलून मालिक के परिवार का सामाजिक बहिष्कार, 50 हज़ार का जुर्माना, दलित के बाल काटना है वजह

कर्नाटक के मैसूर में एक दलित के बाल काटने के लिए एक सैलून के मालिक पर 50,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया है। 

मल्लिकार्जुन शेट्टी मैसूर जिले के हलारे गाँव में एक सैलून चलाते हैं, उनका पूरा परिवार पिछले कई दिनों से सामाजिक बहिष्कार का सामना कर रहा है। 

ऐसा इसलिए है क्योंकि उन्होंने दलितों और पिछड़े वर्ग के लोगों के बाल काटे हैं। 

हालारे गाँव के उच्च जाति के लोगों ने यह फरमान दिया है और मल्लिकार्जुन पर 50,000 रुपये का जुर्माना लगाया है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मल्लिकार्जुन का कहना है कि कुछ दिनों पहले, ऊंची जाति के लोग उनकी दुकान पर आए और उन्होंने मल्लिकार्जुन को दलितों के बाल न काटने की धमकी दी।

Post a Comment

0 Comments