मुख्यमंत्री योगी से मिला संतों का प्रतिनिधिमंडल, रामानंदचार्य के नाम से बनेगा द्वार और मार्ग

अयोध्या। राम नगरी के विकास सहित तमाम विषयों पर अयोध्या के संतों का प्रतिनिधिमंडल विधायक अयोध्या वेद प्रकाश गुप्ता की अगुवाई में रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिला।

नया घाट पर बन रहे लता मंगेशकर चौराहे का विरोध जताते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से संतों ने अपनी बात रखी। उस विषय पर मुख्यमंत्री ने साफ कह दिया कि स्वर कोकिला चौक का निर्माण काफी आगे जा चुका है। अब इसकी जगह स्वामी रामानंदचार्य चौक विकसित करना मुश्किल है। मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया कि रामनगरी में वैष्णव उपासना परंपरा के शीर्ष प्रवर्तक और संप्रदाय के आद्याचार्य स्वामी रामानंदचार्य के नाम से द्वार और मार्ग जरूर निर्मित कराया जाएगा।

रामानंदचार्य के नाम से बनेगा द्वार और मार्ग

प्रतिनिधिमंडल में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं मणिराम दास छावनी महन्त नृत्य गोपाल दास के उत्तराधिकारी महंत कमलयनयन दास, श्रीरामवल्लभाकुंज अधिकारी संत राजकुमार दास, लक्ष्मण किला महंत मैथिलीरमण शरण, अखाड़ा परिषद के प्रवक्ता हनुमानगढ़ी महन्त गौरीशंकर दास, खाक चौक महंत बृजमोहन दास त्यागी, रामकथा कुंज महंत डॉ रामानंद दास, हनुमत निवास महंत मिथिलेश नंदिनी शरण, तुलसीदास छावनी महंत जनार्दन दास, नित्य सरयू महाआरती समिति के अध्यक्ष महंत शशिकांत दास, पत्थर मंदिर महंत मनीष दास, डांडिया मंदिर महन्त महामंडलेश्वर गिरीश दास, ज्योतिषी पण्डित राकेश तिवारी, वैदेही मंदिर के राम शरण, संत अजय शरण आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Post a Comment

0 Comments