ज्योतिबा एवं सावित्री बाई फूले के संदेश को घर-घर तक पहुंचाएं :CM भूपेश बघेल

ज्योतिबा एवं सावित्री बाई फूले के संदेश को घर-घर तक पहुंचाएं :CM भूपेश बघेल

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज यहां उनके निवास कार्यालय में  सुखदेव पटेल के नेतृत्व में मरार पटेल समाज के प्रतिनिधिमंडल ने सौजन्य मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने समाज सुधारक सावित्रीबाई फूले की जीवनी स्कूलों के पाठ्यक्रम में शामिल कराने और राजनांदगांव जिले के गंडई में मरार समाज के भवन के लिए एक एकड़ भूमि तथा सामाजिक भवन निर्माण के लिए 50 लाख रूपए स्वीकृति के लिए आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर मरार समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री को सम्मानित भी किया।

मरार समाज के प्रतिनिधिमंडल को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि ज्योतिबा फूले एवं सावित्रीबाई फूले ने समाज में शिक्षा का अलख जगाया और लोगों को शिक्षा के प्रति जागरूक किया। शिक्षा के क्षेत्र में उनके किए गए कार्य सभी समाजों के लिए प्रेरणा स्त्रोत है।  बघेल ने कहा कि उन्हें इस वर्ष ज्योतिबा फूले सम्मान से सम्मानित किया गया। यह उनके लिए सबसे बड़ा सम्मान है। हम सबको ज्योतिबा फूले एवं सावित्रीबाई फूले के संदेश को घर-घर तक पहुंचाना है।

मुख्यमंत्री  बघेल ने कहा कि राज्य सरकार समाज के कमजोर वर्ग तथा किसानों तथा श्रमिकों के सशक्तिकरण के लिए कार्य कर रही है। इसी कड़ी में 31 मार्च को राजीव गांधी किसान न्याय योजना की चौथी किस्त, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना की दूसरी किस्त तथा तेदूपत्ता संग्रहकों को बीमा राशि प्रदान की जाएगी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ देश में पहला ऐसा राज्य है गोबर खरीदी की योजना शुरू की। अब गोबर खरीदी के बाद गोमूत्र भी खरीदने जा रहे हैं। इस अवसर पर शाकम्भरी बोर्ड के अध्यक्ष  रामकुमार पटेल, राजनांदगांव जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष  नवाज खान सहित समाज के प्रतिनिधि उपस्थित थे।  

Post a Comment

0 Comments