विधायक ने फोड़ा नारियल तो टूट गयी नयी सड़क, अपनी ही सरकार में भ्र्ष्टाचार के खिलाफ़ धरने पर बैठीं विधायक

दिनेश कुमार प्रजापति

बिजनौर। उत्तर प्रदेश के बिजनौर में एक अजीबोगरीब घटना में उद्घाटन के दौरान नारियल तोड़ते वक्त उस जगह सड़क ही टूट गई। रिपोर्ट्स के मुताबिक, बिजनौर में एक नयी सड़क का उद्घाटन करते समय भारतीय जनता पार्टी की विधायक सुची चौधरी ने जैसे ही नारियल फोड़ा, नारियल फूटने की जगह सड़क टूट गई। इससे नाराज विधायक धरने पर बैठ गईं और सड़क की गुणवत्ता को लेकर अधिकारियों को खूब खरी-खोटी सुनाई। घटना की सूचना मिलते ही लोक निर्माण विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर सड़क का नमूना लिया।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक गुरुवार की शाम बिजनौर से बीजेपी विधायक सुची चौधरी सिंचाई खंड की नहटौर शाखा की नहर पटरी पर सात किमी लंबी बनी सड़क का गांव खेड़ा के निकट उद्घाटन करने पहुंची थीं। विधि-विधान से उन्होंने सड़क पर नारियल फोड़ा तो भ्र्ष्टाचार उजागर हो गया और नारियल तो नहीं टूटा लेकिन जिस जगह नारियल पटका गया, उस जगह से बनी हुई नयी सड़क उखड़ गयी। इस पर जब विधायक के पति मौसम चौधरी ने फावड़ा मंगवाकर चलवाया तो सड़क एकदम से उखड़ने लगी। नयी सड़क की इस हालत से नाराज विधायक उद्घाटन कार्यक्रम स्थगित कर धरना देकर बैठ गईं।

धरने पर बैठी विधायक सुची चौधरी ने सड़क की गुणवत्ता को लेकर अधिकारियों को खूब खरी-खोटी सुनाई। जिला मुख्यालय में इस बारे में सूचना मिलते ही लोक निर्माण विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर सड़क का नमूना लिया। सिंचाई खंड के अधिशासी अभियंता विकास अग्रवाल ने बताया कि नमूना ले लिया गया है और जांच में सड़क की गुणवत्ता में गड़बड़ी मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। विभाग से मिली जानकारी के अनुसार इस सड़क के निर्माण पर 1.16 करोड़ रुपये का खर्च आया है।

लेकिन बड़ा सवाल यह है कि अब पोल खुली तो विभाग नमूने लेने की बात कर रहा है लेकिन जब सड़क निर्माण हुआ तो यह विभाग कहाँ सो रहा था क्यों निर्माण के दौरान सरकार से मोटी तनख्वाह लेने वाले विभागीय अधिकारियों ने इसका सर्वे नही किया।क्या यह सब मिलीभगत का नतीजा हो सकता है।फ़िलहाल कुछ भी हो लेकिन नारियल ने लोक निर्माण विभाग की कारगुज़ारी की पोल खोलकर रख दी है।

Post a Comment

0 Comments