बैंक ने दिया साढ़े 3 लाख का नोटिस, परेशान किसान ने की आत्महत्या

भोपाल। मध्य प्रदेश के खरगोन में कर्ज से परेशान 40 वर्षीय किसान ने खुदकुशी कर ली। किसान पर साढ़े तीन लाख का बैंक कर्ज था। बैंक ने इसके लिए बाकायदा उसे नोटिस भी दिया था। एसपी ने कर्ज और बैंक से नोटिस की पुष्टि की। इस बात से किसान का परिवार सदमे में है।

जिला मुख्यालय से 70 किमी दूर सनावद थाना क्षेत्र के मलगांव के किसान 40 वर्षीय अशोक ने खेत में जहरीली दवा की गोलियां खा ली। उसके बाद अपने ममेरे भाई लखनलाल भायडिया को मोबाइल पर बताया कि उसने खेत में सल्फास खा लिया है। इसके बाद सभी खेत पर पहुंचे और अशोक को निजी अस्पताल लेकर जाया गया।

किसान का प्राथमिक उपचार करने के बाद उसे इंदौर रेफर किया गया। इंदौर ले जाते हुए मोरटक्का में किसान की मौत हो गई। इसके बाद उसका पीएम सिविल अस्पताल सनावद में हुआ। पुलिस के मुताबिक, मृतक के ममेरे भाई लखन भायडिया ने बताया अशोक की पांच एकड़ जमीन है। परिजन का आरोप है कि बैक आफ इंडिया शाखा बांगरदा का अशोक पर 4.25 लाख का कर्जा था।

कुछ लोगों से पांच लाख रुपये उधार भी मांगे मगर वहां भी सकारात्मक जवाब नहीं मिला। मृतक ने सल्फास खा लिया। सनावद पुलिस मामले की जांच कर रही है। एसपी सिद्धार्थ चौधरी का कहना है कि थाना सनावद के मलगांव की सूचना मिली थी कि किसान ने सल्फास की गोली खाकर आत्महत्या कर ली है। मृत्यु पूर्व बयान तो नहीं हुए लेकिन बैंक से साढ़े तीन लाख का कर्ज था और बैंक ने नोटिस भी दिया था। इस मामले की जांच की जा रही है।

Post a Comment

0 Comments