गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी का पुत्र आशीष मिश्रा पहुंचा क्राइम ब्रांच

लखीमपुर खीरी। लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के मामले में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के पुत्र आशीष मिश्रा मुख्य आरोपी हैं. आशीष मिश्रा को पुलिस ने समन किया है इसके बावजूद वे जांच टीम के सामने पेश नहीं हुए. आशीष के नेपाल भागने की चर्चा के बीच अजय मिश्रा ने एक दिन पहले साफ किया था कि आशीष कहीं गया नहीं है. वो साक्ष्य के साथ कल पेश होगा. इन सबके बीच आशीष मिश्रा को आज 11 बजे तक क्राइम ब्रांच के सामने पेश होने के लिए कहा गया था।

क्राइम ब्रांच की ओर से दी गई 11 बजे की डेडलाइन से करीब 22 मिनट पहले 10.38 बजे ही आशीष मिश्रा क्राइम ब्रांच के दफ्तर पहुंच गया. क्राइम ब्रांच के दफ्तर पुलिस महकमे के आला अधिकारी और स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) की टीम भी पहले से ही पहुंच चुकी थी. आशीष की जांच दल के सामने पेशी को लेकर पुलिस लाइन में सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए गए हैं. पुलिस ने आशीष मिश्रा की पेशी को देखते हुए पुलिस लाइन को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. जगह-जगह बैरिकेड्स लगाए गए हैं. चप्पे-चप्पे पर पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. सुरक्षा ऐसी कि परिंदा भी पर ना मार सके।

लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के मामले में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के पुत्र आशीष मिश्रा मुख्य आरोपी हैं. आशीष मिश्रा को पुलिस ने समन किया है इसके बावजूद वे जांच टीम के सामने पेश नहीं हुए. आशीष के नेपाल भागने की चर्चा के बीच अजय मिश्रा ने एक दिन पहले साफ किया था कि आशीष कहीं गया नहीं है. वो साक्ष्य के साथ कल पेश होगा. इन सबके बीच आशीष मिश्रा को आज 11 बजे तक क्राइम ब्रांच के सामने पेश होने के लिए कहा गया था।

क्राइम ब्रांच ने आशीष मिश्रा को दोबारा तलब किया 

गौरतलब है कि क्राइम ब्रांच ने आशीष मिश्रा को समन किया था. क्राइम ब्रांच की ओर से आशीष मिश्रा को समन कर 9 अक्टूबर को दिन में 11 बजे तक पेश होने को कहा गया था. लखीमपुर पुलिस जब समन लेकर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के घर पहुंची थी तब वहां कोई नहीं था. पुलिस राज्यमंत्री के घर दूसरी नोटिस चस्पा कर आई थी. क्राइम ब्रांच ने आशीष मिश्रा को दोबारा तलब किया है|
क्राइम ब्रांच ने आशीष को पहले भी तलब किया था लेकिन तब आशीष नहीं पहुंचा था. आशीष के नेपाल भागने की भी चर्चा थी. हालांकि, आशीष के पिता और केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी खुद सामने आए थे और कहा था वो कहीं नहीं गया है. आशीष साक्ष्यों के साथ जांच टीम के सामने पेश होगा. आशीष पर आरोप है कि उसने किसानों पर गाड़ी चढ़ाई।

हिंसा में 4 किसानों और एक पत्रकार समेत 8 लोगों की मौत

बता दें कि लखीमपुर खीरी में हिंसा भड़क उठी थी. लखीमपुर खीरी की हिंसा में चार किसानों और एक पत्रकार समेत कुल आठ लोगों की मौत हो गई थी. इस घटना को लेकर किसानों की ओर से दर्ज कराई गई एफआईआर में आशीष मिश्रा पर आरोप लगाया है कि किसानों पर गाड़ी चढ़ाई. अजय मिश्रा टेनी ने बचाव करते हुए दावा किया था आशीष वहां नहीं था।

Post a Comment

0 Comments