हत्यारे पति ने अपनी पत्नी गीतिका को उतारा मौत के घाट

ब्रिटेन में रहने वाले भारतीय मूल के एक व्यक्ति को उम्र कैद की सजा सुनाई गई है। इस शख्स ने अपनी पत्नी की बेरहमी से हत्या कर दी थी. 

दोषी भारतीय का नाम कशिश है। 28 वर्षीय कशिश अग्रवाल ने अपनी पत्नी 29 वर्षीय गीतिका गोयल की घर में ही हत्या कर दी थी। इसके बाद उसने अपनी पत्नी के लापता होने की कहानी भी गढ़ी। हालांकि उनका झूठ ज्यादा दिन तक छुपा नहीं रह सका।

इंग्लैंड के लीसेस्टर में रहने वाले कशिश अग्रवाल ने घर में ही अपनी पत्नी गीतिका गोयल की बेरहमी से हत्या कर दी थी। इसके बाद वह पत्नी के शव को उठा ले गया और छुपाने लगा। बाद में उन्होंने दोस्तों और रिश्तेदारों को फोन कर गीतिका के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि जब से वह ऑफिस से घर लौटे हैं, गीतिका कहीं नजर नहीं आ रही है। इसके बाद पुलिस को गीतिका के लापता होने की सूचना दी गई।

पत्नी की हत्या करने के बाद कशिश ने उसके शव को प्लास्टिक में लपेट कर कार में रखा और अपने साथ ले गया. उसने शव को घर से कुछ दूरी पर फेंक दिया और वापस आ गया। इससे पहले उसने पुलिस को यह बताने के लिए गीतिका के फोन पर कई कॉल किए कि वह अपनी पत्नी को लेकर बहुत चिंतित है। उसने पुलिस को बताया कि ऑफिस से लौटने के बाद वह सीधे नहाने चला गया। करीब आधे घंटे के बाद उन्होंने महसूस किया कि गीतिका घर पर नहीं है। इसके बाद उसने गीतिका को फोन किया, लेकिन उसने नहीं उठाया।

हत्याकांड के दूसरे दिन पुलिस को सूचना मिली कि महिला का शव सड़क पर पड़ा है, जिसकी पहचान गीतिका गोयल के रूप में हुई है. गीतिका के पूरे शरीर पर चाकू के निशान थे। शव मिलने के बाद पुलिस का शक कशिश तक गया और उसके बाद जब जांच की गई तो सच्चाई सबके सामने आ गई. पुलिस ने कशिश के घर और मोहल्ले में लगे सीसीटीवी की तलाशी ली, जिसमें वह हत्या वाले दिन कार में कहीं जाता दिख रहा था. इसके अलावा पुलिस को मृतक के घर में खून के छींटे भी देखे गए।

लीसेस्टर क्राउन कोर्ट ने 18 अक्टूबर को अपना फैसला सुनाते हुए कशिश अग्रवाल को अपनी पत्नी की हत्या का दोषी पाया और उन्हें आजीवन कारावास की सजा सुनाई। उन्हें 20 साल छह महीने जेल में रहना होगा। वहीं गीतिका का परिवार इस घटना से सदमे में है। वह कहता है कि यह विश्वास करना मुश्किल है कि कशिश उसकी पत्नी को मार सकता है। परिवार को नहीं पता था कि दोनों के बीच क्या चल रहा है।

Post a Comment

0 Comments