डाक्टर ने गजब कर दिया, बुखार के मरीज का निकाल दिया गॉल ब्लैडर, मौत

बुलंदशहर। निजी अस्पताल में डॉक्टर ने बुखार का इलाज कराने आये मरीज़ का ऑपरेशन कर गॉल ब्लैडर निकाल लिया जिसके बाद देर रात को मरीज ने दम तोड़ दिया, घटना के बाद आरोपी डॉक्टर फरार हो गया। बुलंदशहर सिटी कोतवाली में आरोपी डॉक्टर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर अस्पताल को सील कर दिया गया है।

मिली जानकारी के अनुसार यूसुफ को बुखार के चलते प्लेटलेट्स में लगातार गिरावट दर्ज होने के बाद बुधवार को बुलंदशहर के दिल्ली रोड स्थित सुधीर क्लीनिक एन्ड नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया था, परिजनों की मानें तो यूसुफ को बुखार के सिवाय दूसरी कोई समस्या नहीं थी। आरोप है कि बुखार से पीड़ित यूसुफ का डॉक्टर ने ऑपरेशन कर गॉल ब्लैडर निकाल दिया। जिसकी वजह से यूसुफ की तबीयत बिगड़ गई और देर रात मरीज़ ने अस्पताल में दम तोड़ दिया।

आरोप यह भी है कि डॉक्टर ने ऑपरेशन करने के बाद परिजनों को ऑपरेशन का सच नहीं बताया और गोलमोल बाते कहीं, लेकिन जब परिजनों को ऑपरेशन का पता चला तो हड़कम्प मच गया। तीमारदारों ने अस्पताल में हंगामा किया और डॉक्टर से बात की, परिजनों की मानें तो डॉक्टर ने अपनी गलती को स्वीकार करते हुए परिजनों को मरीज़ का उपचार करने का भरोसा दिया।

सीएमओ विनय कुमार इस मामले की जांच के लिए दो मैडिकल अफसरों की टीम बनाई गई है। जांच के बाद अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। मेडिकल साइंस में इस तरह की घटनाओं की कोई जगह नहीं है।

एसपी सिटी सुरेन्द्रनाथ तिवारी ने कहा पीड़ित परिवार की तहरीर के आधार पर आरोपी डॉक्टर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। अस्पताल को सील कर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। मृतक का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।

Post a Comment

0 Comments