समस्याओं का जन्मदाता है तनाव : डॉ. गंगवार

अमरोहा। प्रतिवर्ष  दस अक्टूबर मानसिक स्वास्थ्य दिवस के रूप में मनाया जाता है इस वर्ष भी जनपद में विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस पर जिला अस्पताल में कैंप का आयोजन किया जाएगा। लेकिन 10 अक्टूबर को रविवार होने की वजह से जिला अस्पताल में 11 अक्टूबर ( सोमवार ) को मानसिक स्वास्थ्य दिवस मनाया जाएगा । जिसका मुख्य उद्देश्य मानसिक रोगों के प्रति लोगों में जागरूकता पैदा करना  है ।
अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजेश कुमार गंगवार ने बताया कि हर वर्ष 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस के रूप में मनाया जाता है इसका मुख्य उद्देश्य पूरे विश्व में मानसिक रोगों के प्रति लोगों में जागरूकता पैदा करना है लेकिन 10 अक्टूबर को रविवार होने की वजह से जिला अस्पताल में 11 अक्टूबर ( सोमवार ) को मानसिक स्वास्थ्य दिवस मनाया जाएगा। और इस दिन एक कैंप का भी आयोजन किया जाएगा । जिसमें लोगों  को मानसिक स्वास्थ्य के बारे में जानकारी दी जाएगी। 

उन्होंने बताया भागती दौड़ती जिंदगी में शरीर की थकान एक आम बात है। कभी-कभी थकान की वजह से हम किसी शारीरिक बीमारी का भी शिकार बन जाते हैं। शारीरिक बीमारी सभी को नजर आती है या कम से कम पीड़ित को इसके बारे में पता होता है कि वे बीमार है और उसे इलाज की जरुरत है लेकिन मानसिक बीमारी या मानसिक रूप से अस्वस्थ होने पर कभी-कभी उस व्यक्ति को भी पता नहीं चलता, जो खुद इस बीमारी से जूझ रहा होता है। ऐसे में मेंटल हेल्थ को लेकर जागरुकता बेहद जरूरी है। लोगों को मानसिक स्वास्थ्यके प्रति संवेदनशील और जागरूक करने के उद्देश्य से 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है।
उन्होंने कहा कि आज दुनिया में कई कारणों से लोग डिप्रेशन या अन्य मानसिक बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। कई बार लोग मानसिक रोग की चपेट में इस प्रकार आ जाते हैं कि उन्हें आत्महत्या के ख्याल भी आने लगते हैं। ऐसे में विश्व को मेंटल हेल्थ के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से यह दिन मनाया जाता है।मानसिक तनाव। हर किसी के जीवन में स्थाई रूप से अपने पैर पसार चुका है, तनाव व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य को बुरी तरह से प्रभावित कर रहा है। यह बात हर किसी को हर दिन याद रखनी चाहिए, कि तनाव किसी भी समस्या का हल नहीं होता बल्कि कई अन्य समस्याओं का जन्मदाता होता है। उदाहरण के लिए तनाव आपको अत्यधिक सिरदर्द, माइग्रेन, उच्च या निम्न रक्तचाप, हृदय से जुड़ी समस्याओं से ग्रस्त करता है। दुनिया में सबसे अधिक हार्ट अटैक का प्रमुख कारण मानसिक तनाव होता है। यह आपका स्वभाव चिड़चिड़ा कर आपकी खुशी और मुस्कान को भी चुरा लेता है। इससे बचने के लिए तनाव पैदा करने वाले अनावश्यक कारणों को जीवन से दूर करना बहुत जरूरी हो गया है। बेहतर यही है कि शांति से समझते हुए हल किया जाए।

मानसिक रोग के लक्षण | Symptoms of Mental illness

उन्होंने बताया नींद न आना देर से नींद आना, चिंता, घबराहट , उलझन आदि रहना, याददाश्त में कमी, गुस्सा बहुत अधिक करना , उल्टा सीधा बोलना, किसी प्रकार के नशे की लत लग जाना, सर दर्द या भारीपन रहना, आवश्यकता से अधिक सफाई अथवा एक ही कार्य बार-बार करना, एक ही बात बार-बार कहना, उदास या मायूस रहना, किसी कार्य में मन ना लगना, आत्महत्या का विचार आना, बेवजह गाली गलौज करना, बेवजह शक में ग्रसित रहना, बेहोशी के दौरे आना, बुद्धि का कम विकास होना, और मोबाइल का प्रयोग अधिक करना यह सभी मानसिक रोग के लक्षण है‌।

Post a Comment

0 Comments