किसान नेता राकेश टिकैत ने सरकार पर लगाया धोखाधड़ी करने का आरोप

नई दिल्ली। किसान नेता राकेश टिकैत ने सरकार पर किसानों के साथ धोखाधड़ी करने का आरोप लगाते हुए आज कहा कि जरूरत हुयी तो दस साल तक किसान आन्दोलन चलाया जाएगा। टिकैत ने किसानों के भारत बंद को आन्दोलन का हिस्सा बताते हुए कहा कि तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर दस माह से राष्ट्रीय राजधानी के बाहरी हिस्सों में किसानों का धरना प्रदर्शन चल रहा है और सरकार की हठधर्मिता जारी रही तो यह आन्दोलन दस साल तक चलाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सड़को को सील नहीं किया गया है बल्कि आवश्यक सेवाओं को बंद से मुक्त रखा गया है। दूध और फल सब्जियों की आपूर्ति तथा परीक्षा देने वाले छात्रों और बीमार लोगों को बंद से मुक्त रखा गया है।

उन्होंने कहा कि सरकार तीन कृषि कानूनों को वापस नहीं ले रही है और किसानों से बातचीत करना चाहती है। क्या वह किसानों को मूर्ख समझती है। उन्होंने कहा कि आज लोगों को घरों में रहकर भारत बंद का समर्थन करना चाहिये और जरूरत हो तो चार बजे के बाद घरों से निकलना चाहिए। ऐसा नहीं करने पर वे जाम में फसंगे। उन्होंने दुकानदारों से भी अपनी दुकाने चार बजे तक बंद रखने की अपील की।

किसान नेता ने कहा कि उनका आन्दोलन शांतिपूर्ण है और वे लोकतांत्रिक ढंग से अपनी मांगों को उठा रहे हैं। इसबीच प्रमुख विपक्षी दलों ने किसानों के भारत बंद का समर्थन किया है। उधर, केंद्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने भी किसान संगठनों से आन्दोलन का रास्ता छोड़कर बातचीत करने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि किसान संगठन जो भी सुझाव देंगे, उस पर खुले मन से विचार किया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments