सी.एस.सी. केन्द्रों पर बनेगा असंगठित कामगारों के यूनिक आईडी कार्ड, मिलेंगे लाभ

कानपुर देहात। उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात में सी.एस.सी. केन्द्रों के माध्यम अब जिले के सभी असंगठित श्रमिकों के यूनिक आई.डी.कार्ड ई.- श्रम पोर्टल से बनाये जायेगें और पंजीकरण निःशुल्क किया जायेगा और इसी के तहत कार्य की प्रकृति के अनुसार वर्ग विभाजन कर खाका तैयार किया जाएगा।ताकि असंगठित श्रमिकों को उनके उत्थान के लिये विभिन्न कल्याणकारी योजनाऐं बनाकर लाभान्वित किया जा सके।

16 से 59 वर्ष के बीच होनी चाहिए उम्र 

सी.एस.सी. केन्द्रों के माध्यम अब जिले के सभी असंगठित श्रमिकों के यूनिक आई.डी.कार्ड को लेकर सहायक श्रमायुक्त अवधेश कुमार ने बताया कि आवेदक की उम्र 16 से 59 वर्ष के बीच में होनी चाहिये। आवेदक का पीएफ(अकांउट) और ईएसआईसी खाता नही होना चाहिये और न आयकर का भुगतान करता हो। आवेदक किसी भी संगठित समूह या संस्था का सदस्य नहीं होना चाहिये।

आवेदन के लिये क्या होना चाहिये 

उन्होंने बताया कि आवेदक के पास आधार कार्ड, बैंक खाता और मोबाइलनम्बर अनिवार्य है। कौन करवा सकता है पंजीकरंण -छोटे किसान, कृषि क्षेत्र मे लगे मजदुर, पशुपालक, मछली विक्रेता, मोची, ईट भट्ठे पर काम करने वाले, और घरों मे काम करने वाले, रेहडी - फडी वाले न्यूजपेपर, वेंडर, कारपेंटर, प्लम्बर, रिक्शा व आटो रिक्शा संचालक मनरेगा वर्कर, दुध विक्रेता, स्थानांतरित लेबर नाई, आशा, वर्कर चाय विक्रेता व ऐसे मजदुर जो कि किसी संगठन के साथ नही जुडे सभी यूनिक आईडी बनवा सकते हैं। जिले की सभी सीएससी केन्द्रों पर ये सुबिधा उपलब्ध होगी और सभी असंगठित श्रमिकों का निःशुल्क पंजीकरंण कर कार्ड दिया जायेगा।किसी प्रकार की समस्या आने पर संबंधित अधिकारी से मिलकर उसका निदान भी करा सकते हैं।

Post a Comment

0 Comments