चेक बाउंस के आरोपी कपड़ा व्यावसायी को 6 माह की कैद व 5 लाख जुर्माने का आदेश

प्रयागराज। विशेष अदालत ने खाते में पैसे न होने के बावजूद चेक जारी करने वाले आरोपी को पांच लाख रुपए जुर्माना और छह माह के साधारण कारावास की सजा सुनाई है। जुर्माना अदा करने पर पीड़ित पक्ष को राशि दी जाएगी।

विशेष न्यायाधीश नरेंद्र देव मिश्रा ने शिकायतकर्ता के वकील प्रवीण कुमार तिवारी, संदीप मिश्रा और आरोपी सभाजीत पाल के वकील की दलीलें सुनने के बाद यह आदेश दिया है. प्रवीण कुमार तिवारी की दुकान जीरो रोड इलाहाबाद इलाके में है। संत रविदास नगर भदोही के व्यापारी सभाजीत पाल पर प्रवीण की दुकान से थोक भाव में रेडीमेड वस्त्र लेकर अपनी दुकान चलाने का आरोप है.

उसने 3,81799 रुपये के कपड़े खरीदे और 10 नवंबर 2014 को उसी राशि का चेक बैंक ऑफ बड़ौदा को सौंप दिया। बैंक में जमा होने पर, खाते में राशि के कारण चेक बाउंस (चेक डिसऑनर) हो गया। इसके बाद प्रवीण ने सभाजीत पाल को नोटिस भेजा, इसके बावजूद पैसे नहीं देने पर उन्होंने कोर्ट में केस दर्ज कराया.

Post a Comment

0 Comments