मुसलमानों को अपने हुक्मरानों की इज्जत करनी चाहिए: मुस्लिम राष्ट्रीय मंच

अमरोहा। होटल पैराडाइज में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के मेरठ प्रांत की बैठक का आयोजन किया गया । बैठक में मंच के केंद्रीय पदाधिकारियो ने मंच की आगामी योजनाओं पर चर्चा की।

इस मौके पर केंद्रीय टोली द्वारा प्रान्त संयोजक मेरठ प्रान्त मोहम्मद कय्यूम खान और उनकी टीम को शाल उड़ा कर सम्मानित किया गया। 3 घंटे तक चली बैठक में मंच के प्रमुख राष्ट्रीय संयोजक मोहम्मद अफजाल,राष्ट्रीय संगठन संयोजक गिरीश जुयाल, राष्ट्रीय संयोजक सैय्यद रजा हुसैन रिज़वी,राष्ट्रीय सह संगठन संयोजक स्वामी मुरारी दास,राष्ट्रीय संयोजक मौलाना कोकब मुज्तबा,एवं प्रदेश संयोजक उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखण्ड हाजी ज़हीर अहमद ने बैठक को सम्बोधित किया।

इस मौके पर वक्ताओं ने सभी से इन्सानियत और भाईचारे से रहने की अपील की और कहा कि वतन परस्ती ईमान का हिस्सा है। इस्लाम में साफ बताया गया है कि देश सबसे पहले है। हम सबको देश की सेवा करना चाहिए। कहा ‘हुब्बुल वतनी मिनल ईमान’ यानी वतनपरस्ती ईमान का हिस्सा है। यह हदीस हजरत मोहम्मद साहब की मशहूर हदीस है,जो इस्लाम में वतनपरस्ती का मुकाम दर्शाती है।’ इसलिए जरूरी है कि हम इस तालीम को याद रखें।

उन्होंने कभी भी फसादात के लिए इस्लाम में कोई जगह नहीं दी है। कहा कि इस्लाम में वतन परस्ती के विषय में विस्तार से बताया गया है। हुब्बल वतनी मिनल ईमान यानि वतन परस्ती ईमान का हिस्सा है।नबी की यह मशहूर हदीस वतन से मुहब्बत की सीख देती है। देश हमारे लिए पहले है। हम सब को अपने देश से मुहब्बत करना चाहिए।आगे कहा कि मुस्लमानों को अपने हुकमरानों की इज्जत करनी चाहिए।

मुस्लिम मंच के कार्यक्रम में पहली बार शामिल होने वाले क्षेत्र के वरिष्ठ राजनीतिक एवं सामाजिक कार्यकर्ता,लेखक एवं कवि मुजाहिद चौधरी एडवोकेट ने अपने काव्य संग्रह अहसासे मुजाहिद की प्रतियां मंच के पदाधिकारियों और सम्मेलन में शामिल प्रतिनिधियों को प्रदान कीं । कार्यक्रम का संचालन मेरठ प्रांत संयोजक मोहम्मद कय्यूम खान ने किया।

इस अवसर पर क्षेत्रीय सेवा प्रमुख पश्चिमी उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखण्ड फैसल मुमताज़,डा.हसन नूरी,कदीम आलम एड.,डॉ.आफताब हाशमी,मुजाहिद चौधरी एडवोकेट,मौलाना हमीदउल्लाह,फरमान, तुषारकांत,रियाजुल हसन, आदि मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments