आयुष्मान योजना की कम प्रगति पर डीएम हुए नाराज

हापुड़। जनपद में चल रही आयुष्मान योजना की प्रगति की धीमी गति पर डीएम अनुज सिंह ने नाराजगी व्यक्त करते हुए अफसरों को फटकार लगाई और कहा कि योजना को लक्ष्य के अनुरूप पूरा करे। डीएम यहां कलक्ट्रेट में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में बोल रहे थे।

डीएम अनुज सिंह ने समस्त प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रत्येक परिवार में किसी एक सदस्य का आयुष्मान कार्ड तो जरूर बनना चाहिए। इस योजना से कोई भी परिवार वंचित नहीं रहना चाहिए। उन्होंने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की समीक्षा, जननी सुरक्षा योजना, परिवार कल्याण कार्यक्रम, आरसीएच एवं एचएमआईएस पोर्टल पर पंजीकरणों की समीक्षा भी की। उन्होंने ब्लॉक के अधिक्षकों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि समीक्षा में सुधारात्मक कदम उठाए जाएं। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान शासन की महत्वकांक्षी योजना है। इसे बड़े स्तर पर गर्भवती महिलाओं को अधिक से अधिक संख्या में बुलाकर बनाए जाने, मातृत्व मृत्यु की रिपोर्ट व ऑडिट ब्लॉकों द्वारा ना किए जाने तथा अन्य कार्यों में लापरवाही और कन्या सुमंगला योजना की धीमी प्रगति पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देशित किया कि जनपद की समस्त सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में जन्म लेने वाली कन्या में पात्रों के फॉर्म कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत भरवाए जाएं। जिलाधिकारी ने कहा कि उप स्वास्थ्य केंद्रों को ऑपरेशन कायाकल्प के अंतर्गत उनकी दशा सुधारें। बैठक में जिलाधिकारी ने कोविड-19 महामारी तथा कोविड वैक्सीनेशन की भी समीक्षा की।

बैठक में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रवीण शर्मा, प्रभारी चिकित्सक डा.दिनेश खत्री, यूनिसेफ व डब्ल्यूएचओ के प्रतिनिधि, समस्त प्रभारी चिकित्सा अधिकारी, समस्त खंड विकास अधिकारी, अधिशासी अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी आदि शामिल रहे। इसके अलावा डीएम ने संचारी रोग की रोकथाम के लिए चलाएं जा रहे दस्तक अभियान तथा स्वास्थ्य सेवाओं की समीक्षा की और अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए।

Post a Comment

0 Comments