पुत्र बना हैवान, 80 वर्षीय बुजुर्ग मां को घर से निकाला

हरदोई (DVNA)। घरेलू हिंसा,आपसी मतभेद और संपत्ति विवाद को लेकर अक्सर बुजुर्गों के साथ मारपीट तक की जाती है और जब बात उनके स्वास्थ्य की देखभाल और खाने पीने की होती है तो उनके साथ बेहद बुरा सलूक होता है। ताजा मामला बिलग्राम कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम लक्ष्मण पुरवा का सामने आया है जहां पर इकलौते पुत्र राजेश उर्फ सूर्य प्रकाश ने अपनी ही मां को दर दर भटकने पर मजबूर कर दिया है।

कोतवाली पहुंची बुजुर्ग मां ने अपनी दर्द भरी दास्तान महिला कांस्टेबल को सुनाई। उनकी भी आंखें भर आयीं। जिसके बाद उन्हें मदद का भरोसा देकर बुजुर्ग को वापस घर भेजा गया। बुजुर्ग मां के साथ आई उनकी बेटी ने बताया कि हम चार बहनें और एक भाई हैं हम चारों बहनों की शादी हो चुकी है। सिर्फ अकेला भाई है जिसके मातहत माता जी रहती हैं। पिता जी का काफी पहले देहांत हो चुका है पिता जी अपने पीछे लगभग अस्सी बीघा जमीन छोड़ कर गये थे जिसे हमारे भाई ने बेच कर पैसों का वारा न्यारा कर दिया है और अब हमारी बुजुर्ग मां को भी आये दिन मार पीट कर घर से निकालता है। बुजुर्ग मां ने भी डबडबाती आंखों में आंसू और रुंधे लहजे में कहा कि इस उम्र में हमे चंद निवालों के अलावा कुछ नहीं चाहिए।साहब उसी का इंतजाम कर दीजिए। हमारा राशन कार्ड भी नहीं है। लोगों ने उसे भी कटवा दिया है। अब हम क्या खायें और कहां रहें, यही चिंता सता रही है।

Post a Comment

0 Comments