दस्तक अभियान में कुपोषित बच्चों का भी किया जा रहा चिन्हांकन

दानिश उमरी
आगरा।
विशेष संचारी रोग अभियान के तहत दस्तक अभियान चल रहा है। इसमें आशाएं घर-घर जाकर दस्तक दे रही हैं, वे लोगों की सेहत का हाल जान रही हैं, इसके साथ ही वे कुपोषित बच्चों का भी चिन्हांकन कर रही हैं।

जिला मलेरिया अधिकारी आरके दीक्षित ने बताया कि जनपद 12 जुलाई से 25 जुलाई तक दस्तक अभियान चलाया जा रहा है। इसमें आशाएं व आंगनवाड़ी घर-घर जाकर लोगों को संचारी रोगों के प्रति जागरुक कर रही हैं। इसके साथ ही लोगों की सेहत का हाल भी जान रही हैं। डीएमओ ने बताया कि अभियान में घर-घर भ्रमण के दौरान आशा व आंगनवाड़ी बुखार व क्षय रोगियों के अतिरिक्त कुपोषित बच्चों का भी चिन्हांकन कर रही हैं। इसके साथ ही घर-घर भ्रमण के दौरान स्टीकर लगाकर लोगों को संचारी रोगों के प्रति जागरुक कर रही हैं।

डीएमओ ने बताया कि दस्तक अभियान में समस्त चिकित्सा अधीक्षक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रोंको अवगत कराया गया है कि दस्तक अभियान के अन्तर्गत सभी आशा और आंगनवाड़ी को अपने क्षेत्र में घर घर जाकर बुखार , क्षय रोग , कुपोषित बच्चे , आई.एल.आई. एवं सीवियर एक्यूट रैस्पिरेटरी इंफेक्शन वाले रोगियों का चिन्हीकरण कर लाइन लिस्ट तैयार करनी है। जिसकी सूची स्वास्थ्य केन्द्र पर जमाकर उनके इलाज की व्यवस्था हेतु कार्यवाही की जानी है अतः रोजाना सांय 4 बजे तक आशा एवं आंगनवाड़ी कार्य कत्रियों द्वारा किये गये घर घर भ्रमण कार्य की रिपोर्ट जनपद मुख्यालय पर भेजनी हैं।

Post a Comment

0 Comments