फर्जी सिम व आधार कार्ड से हड़पते थे छात्रवृत्ति

मुरादाबाद। सरकार आर्थिक रूप से कमजोर छात्र छात्रों को पढ़ाई करने के लिए हैं उन्हें हर वर्ष छात्रवृत्ति देती है, और यह छात्रवृत्ति सीधी छात्रों के बैंक अकाउंट में जाती है, लेकिन इस छात्रवृत्ति को हड़पने के लिए रामपुर के ठगों ने एक रास्ता तलाश लिया है, ये ठग फ़र्ज़ी आधार कार्ड के जरिए सिम कार्ड एक्टिवेट कराते हैं, फिर फ़र्ज़ी आधार कार्ड और मोबाईल नंबर के आधार पर यह बैंक में अकाउंट खोल देते हैं, छात्रों को सरकार से छात्रवृत्ति के नाम पर छात्रों को मिलने वाली छात्रवृत्ति का पैसा ठग लेते हैं, छात्रों को पता भी नहीं होता कि उनके नाम पर पैसा आया है, मुरादाबाद पुलिस ने अचानक वाहन चेकिंग में सामने आए दो युवकों से बरामद सामान मिलने पर जब पूछताछ की तो इस तरह छात्रवृत्ति हड़पने वाले गैंग का खुलासा हुआ है, यह शातिर ठग ऐसे ही न जाने कब से छात्रवृत्ति हड़प रहे थे।

मुरादाबाद की थाना सिविल लाइन पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान दो बाईक सवारों को रोक कर जब तलाशी ली तो उनके पास से 54 आधार कार्ड, 37 अलग अलग नामों से बने नकली आधार कार्ड, 23 एक्टिवेट सिम कार्ड के साथ ही 1900 छात्र-छात्राओं के फोटो और दस्तावेज बरामद किये, पकड़े गए दोनों युवक शाहिद व अनस से जब इस सम्मान के बारे में जानकारी की तो उन्होंने बताया कि यह सारा समान हसनैन का है और हसनैन रामपुर के टांडा इलाके में रहता है और एक स्कूल चलाता है, और अपने ही स्कूल के रिकॉर्ड में फ़र्ज़ी दस्तावेज लगाकर सरकार से मिलने वाली छात्रवृत्ति को हड़प लेता है, पुलिस ने दोनों आरोपियों शाहिद व अनस को गिरफ्तार कर मुख्य आरोपी हसनैन की तलाश शुरू कर दी है।

मुरादाबाद पुलिस अधीक्षक नगर अमित आनंद के मुताबिक दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है गैंग के मुख्य सरगना की तलाश की जा रही है उसे भी जल्द ही गिरफ्तार कर और पूछताछ की जायेगी की और कौन कौन लोग इनके साथ हैं।

Post a Comment

0 Comments