सऊदी अरब भी कोरोना की चपेट में, हज की इजाजत नहीं

लखनऊ। इस साल कोई भारतीय मुसलमान हज नहीं कर पाएगा। हज कमेटी ऑफ इंडिया ने सभी आवेदन तत्काल प्रभाव से रद्द कर दिए हैं। इस बारे में हज कमेटी ऑफ इंडिया ने जानकारी दी है। हज कमेटी की ओर से बताया गया है कि सऊदी अरब सरकार की ओर से कहा गया है कि इस बार किसी को हज पर आने की इजाजत नहीं मिलेगी।

हज कमेटी ऑफ इंडिया के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर डॉ.मकसूद अहमद खान ने सर्कुलर जारी करके बताया कि भारतीय मुसलमानों की ओर से हज 2021 के लिए भेजे गए सभी आवेदन तत्काल प्रभाव से रद्द कर दिए गए हैं। किंगडम ऑफ सऊदी अरेबिया की हज और उमरा मिनिस्ट्री ने हज कमेटी ऑफ इंडिया को एक पत्र भेजा है। जिसमें बताया गया है कि विश्वव्यापी कोरोनावायरस के कारण इस साल केवल सऊदी अरब के मुसलमानों को सीमित संख्या में हज करने का अवसर दिया जाएगा। सऊदी अरब से बाहर के किसी भी मुल्क के नागरिक को हज पर आने की इजाजत नहीं दी गई है। अंतरराष्ट्रीय हज यात्रा सऊदी अरब सरकार ने रद्द कर दी है। डॉ.मकसूद अहमद खान ने बताया कि अरब सरकार के इस पत्र पर संज्ञान लेते हुए हज 2021 के लिए मिले सभी आवेदनों को हज कमेटी ऑफ इंडिया ने रद्द कर दिया है।

आपको बता दें कि विश्वव्यापी कोरोनावायरस के संक्रमण की वजह से दुनिया भर में धार्मिक आयोजनों पर पाबंदियां लगाई जा रही हैं। भारत में भी कुंभ को बीच में ही स्थगित कर दिया गया था। इसके अलावा भारत में हर साल होने वाली कावड़ यात्रा को भी स्थगित किया जा रहा है। सऊदी अरब भी कोरोनावायरस के संक्रमण की चपेट में है। ऐसे में वहां हज के दौरान दुनिया भर से लोगों का आगमन बड़ा संकट खड़ा कर सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन और अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों की सलाह पर सऊदी अरब सरकार ने हज के लिए केवल अपने नागरिकों को सीमित संख्या में अनुमति दी है। दुनिया के बाकी किसी भी मुल्क से हज यात्रियों को सऊदी अरब पहुंचने की इजाजत इस साल नहीं मिलेगी।

Post a Comment

0 Comments